Thread Rating:
  • 0 Vote(s) - 0 Average
  • 1
  • 2
  • 3
  • 4
  • 5
Chudai Ka Anubhav Mami Ne Diya
09-23-2016, 07:36 PM,
#1
Chudai Ka Anubhav Mami Ne Diya
हैल्लो फ्रेंड्स, मेरा नाम जय है और में राजकोट गुजरात का रहने वाला हूँ, मुझे सेक्स स्टोरी पढ़ना और भाभी के साथ सेक्स करना अच्छा लगता है। अब में आपका समय ख़राब ना करते हुए सीधा स्टोरी पर आता हूँ। मेरी मामी 30 साल की है, उसका फिगर 36-32-38 है, वो थोड़ी मोटी है, लेकिन बहुत सेक्सी है। वो थोड़ी नए विचार वाली है तो वो मेरे साथ फ्रेंकली रहती है, उसके 2 बच्चे (एक लड़का और एक लड़की) है। उसका लड़का 6 साल का और लड़की 3 साल की है, मामी एक इंश्योरेंस कंपनी में जॉब करती है। एक दिन मामा उसके दोनों बच्चों को बच्चों के मामा के घर छुट्टियाँ मनाने के लिए छोड़ने गये। मामी घर पर अकेली थी और मामा 5-7 दिन के बाद आने वाले थे। फिर 2 दिन मामी ने ऐसे ही अकले में निकाल लिए। दोस्तों में मामी को कई महीनों से सेक्स करना चाहता था, फिर क्या? भगवान भी देता है तो छप्पड़ फाड़कर देता है। मामी का फोन आया और बोली कि तेरे मामा गाँधीनगर गये है तो क्या तू आज घर पर आ जायेगा? मेरी तो लॉटरी लग गयी, मैंने फट से हाँ कह दी और बोला कि मेरी मम्मी को बता देना। तो उसने बोला ठीक है बोल दूँगी और फिर उसने मम्मी को फ़ोन करके बोल दिया कि जय कुछ दिन के लिये यही मेरे पास रुकेगा।

फिर मैंने मामी को उनके ऑफिस से पिक-अप किया और उसके घर आ गये। उस समय रात के 9 बज चुके थे। फिर उसने खाना पकाया और हमने खाना खाया। फिर 11 बजे के आसपास हम रूम में सोने गये, उसके घर में एक रूम और किचन था तो हम रूम में गये और टी.वी देख रहे थे, तो टी.वी देखते-देखते मेरा पैर धीरे से उसके पैरों को टच हो गया, लेकिन मामी कुछ नहीं बोली। फिर रात के 12 बज चुके थे और फिर हम टी.वी ऑफ करके सो गये, मामी ने नाईट ड्रेस ही पहना था और रूम में अंधेरा था तो में बेड पर चादर ढूंढ रहा था तो चादर ढूंढते-ढूंढते मेरा हाथ धीरे से मामी की झांगो पर टच हुआ तो मामी बोली क्या कर रहे हो? तो मैंने कहा कुछ नहीं चादर ढूंढ रहा था, फिर में लेट गया। फिर में और मामी बातें करते-करते थोड़ी खुलने लगी और फिर धीरे से उसने पूछा कि तेरी कोई गर्लफ्रेंड तो होगी, तो मैंने कहा हाँ है। फिर उसने कहा कि फिर तो सेक्स भी किया होगा, तो मैंने कहा नहीं पहली बार लड़की के साथ फ्रेंडशीप थी तो कुछ नहीं किया। फिर मैंने मामी से कहा कि सेक्स करने में ऐसा क्या है जो उसके लिए इतने पागल होते है, तो मामी ने कहा कि उसी में तो मज़ा है, इतना जितना मजा तो स्वर्ग में भी नहीं है। फिर मैंने कहा कि मुझे अनुभव नहीं है तो कुछ पता भी नहीं है। फिर मामी थोड़ी देर चुप रही फिर उसने बोला कि तुझे अनुभव लेना है? तो मैंने कहा किसके साथ?

मामी – मेरे साथ।

में – लेकिन आपके साथ कैसे? आप तो मेरी मामी हो।

मामी – तो क्या हुआ? तुझे लेना है तो बोल।

में – हाँ ठीक है।

मामी – ये बात हमारे बीच में ही रहेंगी, ठीक है।

में – ठीक है।

फिर हम धीरे-धीरे एक दूसरे के फेस के नज़दीक आए और लिप पर किस करने लगे। वो क्या किस कर रही थी? वो मेरी जीभ को चूसती और पूरे होंठ चूसकर काटने लगी। फिर उसने मुझे उसके ऊपर लिया और गाल पर, गर्दन पर किस करने का इशारा किया और में उसे किस करता रहा। वो गर्म हो रही थी। फिर में धीरे-धीरे उसकी गर्दन के नीचे किस करने लगा और दोनों हाथों से ड्रेस के ऊपर से ही उसके बूब्स को दबाने लगा। फिर मैंने उसको बैठाया और ऊपर से उसकी ड्रेस को निकाला तो उसने अन्दर ब्रा पहनी हुई थी और अंधेरे की वजह से ब्रा का कलर दिखाई नहीं दे रहा था और ब्रा के ऊपर से ही उसके बूब्स को दबाता रहा और किस करता रहा और वो सिसकारियां भरने लगी थी। फिर उसने मेरा शर्ट निकाला और मेरी पीठ के ऊपर हाथ फेरने लगी। फिर मैंने उसकी ब्रा खोली और उसको कुत्ते की तरह चूसने लगा और उसके निपल को चूसता और बूब्स को दबाता रहा। वो ज़ोर-जोर से सांसे लेने लगी और वो मेरा सर पकड़कर बूब्स के बीच में दबा रही थी। फिर मैंने उसके पज़ामें का नाड़ा खोलकर निकाल दिया और अब वो पेंटी में थी। दोस्तों ये कहानी आप चोदन डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर उसने भी मेरी पेंट खोल दी और मेरी अंडरवियर को निकाल दिया। फिर वो मेरे लंड को अपने हाथ से सहलाने लगी और लिप पर किस करती रही। वो बहुत गर्म हुए जा रही थी, वो आआअहह सीईईस कर रही थी और बीच-बीच में बोल रही थी, यार जय मुझे बहुत मज़ा आ रहा है बस सेक्स करता जा। फिर मैंने उसको सुला दिया और उसकी पेंटी निकाली, फिर मैंने चूत पर हाथ फेरा तो वहां थोड़े-थोड़े बाल थे। फिर मैंने अपना मुँह उसकी चूत पर रखा, क्या खुशबू आ रही थी? फिर मैंने उसकी चूत को चाटना शुरू किया और चूत की गहराई तक चाटा तो वो ज़ोर-ज़ोर से सिसकारियां लेने लगी। आआआआ उूउउफफफफफ्फ़ सस्स्स्स्सीईई और थोड़ा ज़ोर से चाटो, मजा आ रहा है। आआआहह उूउउफफफफफफ्फ़। फिर करीब मैंने 30 मिनट तक उसकी चूत चाटी उस दौरान वो झड़ गई और पानी निकलने लगा, तो में उसकी चूत का पूरा पानी पी गया, क्या स्वादिष्ट पानी था यारो? बस जी करता है कि वो बार-बार झड़े और उसकी चूत का पानी पीता रहूँ।

फिर उसने मुझे सुलाया और मेरे लंड को थोड़ा सहलाया, उसके बाद उसने मेरे लंड को किस किया और बोली कि तेरा लंड तो बिल्कुल पोर्न मूवी जैसा मस्त है और ऐसा बोलकर हंसी और उसको मुँह में ले लिया और चूसने लगी, मुझे तो बहुत मज़ा आ रहा था। फिर 15-20 मिनट तक ज़ोर-ज़ोर से मुँह में अंदर बाहर करने लगी और फिर मैंने उससे कहा कि में झड़ने वाला हूँ, तो उसने कहा ठीक है मेरे मुँह में ही झड़ जाना मुझे तेरा पानी चखना है। फिर थोड़ी ही देर बाद में उसके मुँह में झड़ गया और सारा पानी छोड़ दिया। फिर मामी ने मेरे लंड का पूरा पानी पी लिया और बोली कि मज़ा आ गया। फिर वो मुझे अपनी बाहों लेकर मेरे सिर पर हाथ फेरने लगी, फिर थोड़ी देर बाद उसको फिर नशा चढ़ा और मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी, तो में भी गर्म हो गया और लंड रेल्वे की फाटक की तरह खड़ा हो गया। फिर वो मेरे ऊपर आई और उसने अपनी चूत को मेरे मुँह पर रख दिया तो में उसकी चूत को चूसने लगा, तो वो अपनी गांड हिला-हिलाकर चुसाने लगी। फिर थोड़ी देर तक ऐसा करने के बाद उसने मेरे लंड को अपनी चूत में डाला, पहले तो उसने अपनी चूत के ऊपर घुमाया, फिर धीरे से मेरे लंड के टोपे को चूत पर रखा और धीरे से बैठने लगी और अयाया उूउउफफफफफ्फ़ की आवाज़ करने लगी।

फिर उसने धीरे-धीरे बैठकर पूरा लंड चूत में घुसा दिया और मेरे ऊपर ज़ोर-ज़ोर से उछलने लगी और वो सिसकारियां लेते हुए मज़े ले रही थी। आआआ सस्स्सीईईईई मजा आ गया आज तो में तुझे अनुभव करवाकर ही छोडूंगी। उफफफफफ आआआअहह और वो अपने बालों पर हाथ घुमाकर पागलों की तरह उछलती रही। फिर वो 15-20 मिनट के बाद में झड़ गई और नीचे उतर गई। फिर मैंने उसको डोगी स्टाइल में किया और उसकी गांड को कसकर पकड़कर पीछे से लंड को घुसाया और उसकी चूत में लंड को अंदर बाहर करने लगा। फिर थोड़ी देर के बाद में झड़ने लगा और मैंने अपना पूरा पानी उसकी चूत में निकाल दिया। फिर में थककर सो गया, ऐसा पूरी रात में 3-4 बार सेक्स करके हमने पूरी रात गुजारी। फिर ये सिलसिला पूरे 4 दिन तक चलता रहा और अब कभी-कभी मौका मिलता है तो फटाफट चोद लेते है ।।

धन्यवाद …

Free Savita Bhabhi &Velamma Comics @
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
  Antarvasnasex दोस्त की माँ sexstories 5 56 Yesterday, 11:48 AM
Last Post: sexstories
Lightbulb Sex Hindi Kahani रंगीन आवारगी sexstories 8 57 Yesterday, 11:45 AM
Last Post: sexstories
Star Sex Hindi Kahani हमाम मे सब नंगे थे sexstories 6 51 Yesterday, 11:43 AM
Last Post: sexstories
  Chudai Kahani रामू ड्राइवर sexstories 7 61 Yesterday, 11:37 AM
Last Post: sexstories
  बहू की चूत ससुर का लौडा sexstories 48 768 Yesterday, 11:34 AM
Last Post: sexstories
  Hindi sex मैं हूँ हसीना गजब की sexstories 27 151 06-25-2017, 11:57 AM
Last Post: sexstories
  Sex kamukta मेरी बेकाबू जवानी sexstories 24 110 06-25-2017, 11:34 AM
Last Post: sexstories
  Antarvasnasex आंटी के साथ मस्तियाँ sexstories 13 89 06-25-2017, 11:22 AM
Last Post: sexstories
  Kamukta मुझे कुच्छ कुच्छ होता है sexstories 9 55 06-25-2017, 11:12 AM
Last Post: sexstories
  Chudai Kahani गाँव का राजा sexstories 54 463 06-24-2017, 11:02 AM
Last Post: sexstories

Forum Jump:


Users browsing this thread: 1 Guest(s)