Indian Sex Story अहसास जिंदगी का
02-01-2019, 02:06 PM,
#1
Indian Sex Story अहसास जिंदगी का
अहसास जिंदगी का


हेलो मित्रो, 
सीधे कहानी पे आता हूं ।
कहानी में 2 मैन चरित्र है । राहुल और उसकी माँ रमा देवी। राहुल की उम्र21 साल है और माँ 42 साल की है। रमा देवी एक नर्स है जिनके पति की मुत्यु 10 साल पहले कार दुर्घटना में हो चुकी थी। राहुल फार्मेसी की पहले साल में था। 
राहुल अपनी माँ के बहुत करीब था और उसकी माँ भी उससे बहुत प्यार करती थी। उसकी माँ का एक डॉक्टर से प्रेम संबंध थे जो राहुल के घर न होने पे उसके घर रमा से सेक्स करने आया करता था। राहुल को पता था पर वो जान के भी अनजान बनता था उस डॉक्टर का परिवार भी था जिसमे उस डॉक्टर की बड़ी बेटी लता राहुल से 2 साल सीनियर थी। राहुल की माँ को उम्मीद थी कि वो डॉक्टर अपने परिवार को छोड़ कर बसे शादी कर लेगा। लेकिन ऐसा हुआ नही उस डॉक्टर ने अपनी पत्नी के प्रेशर में आ के रमा को छोड़ने की बात रमा से कही। रमा का दिल टूट गया वो उस डॉक्टर से बहुत प्यार करती थी उसने हर तरीके से चाहे शारीरिक हो या मानसिक उसे अपना पति माना था वो उसकी हर ज़िद पूरी करती थी यहां तक कि अपने बेटे के कमरे में उसने सेक्स किया डॉक्टर के साथ गुदा मैथुन भी करवाया और उसका वीर्य भी चूसा। 
रमा ने हॉस्पिटल जाना छोड़ दिया घर पे दुख से बैठे रहती । राहुल जनता था अपनी माँ की परेशनि को समझ रहा पर वो खुद चाहता था कि वो डॉक्टर उसकी माँ को छोड़ दे। उस डॉक्टर से बदला लेने के लिए वो खुद उसकी बेटी को पटाने की कोशिश कर रहा था लेकिन वो लड़की लता जूनियर से बात ही नही करती थी और उस लड़की को भी अपने बाप के प्रेम संबंधों का पता था।
एक दिन राहुल कॉलेज के लिए निकला तो अपने नोट्स भूल गया उनको लेने घर पे लोटा तो देखता है कि माँ कंप्यूटर के सामने बैठे हुए अपने अंग को छू रही है वो भी उसके कमरे में। माँ ने एक मैक्सी पहनी थी जो कमर के ऊपर तक उठी हुई थी । चूत पर हल्के बाल थे और वो गीली से थी । 
राहुल- मम्मी ये क्या कर रही हो?
रमा खड़ी हो गयी घबराई हुई सी
रमा- कुछ नही बेटे तेरा रूम साफ करने आई थी तो कंप्यूटर देखने लगी
राहुल कंप्यूटर के पास जा के देखता है कि माँ कोशिश करती है स्क्रीन काटने की लेकिन राहुल देख ही लेता है कि वो पोर्न साइट है।
राहुल- माँ आप ये सब क्या कर रही हो आपको ये सब शोभा नही देता 
रमा रोते हुए- मुझे माफ़ कर दे बेटे पता नही क्यों करने लगी में ये सब
राहुल- रो मत मम्मी इट्स ओके आप भी देख सकती हो लेकिन कुछ दिन से आपको इतना डिप्रेस में देख रहा हु अगर आप इससे निकलना चाहती हो तो पोर्न देखिये मैं कुछ नही कहूंगा बस आप खुश रहिये।
रमा- मेरा बच्चा मैं नही देखूंगी 
राहुल- नही माँ कोई बात नही है मैं भी कभी कभी देखता हूं जब मेरा मन करता है किसी लड़की के साथ सेक्स करने का आप भी इंसान हो और आपकी भी जरूरते है 
रमा- मेरे जरूरतों की परवाह किसे है जिससे प्यार किया उसने ही धोखा दिया उस डॉक्टर ने मुझे खराब कर दिया मैं सेक्स के बिना नही रह पाती वो भी हर तरह की गंदी चीजे करने का।
राहुल- मैं तेरे परवाह करता हु माँ लेकिन तुझे उस आदमी के प्यार से उबरना पड़ेगा। लेकिन तू मेरे कमरे में पोर्न क्यों देख रही है तेरे कमरे में भी कंप्यूटर है ना 
रमा- बेटा हम दोनों तेरे कमरे में सेक्स किया करते उसको बहुत मजा आता था कहता था अपने बेटे के बिस्तर पर नंगी हो के लेट मुझे तेरे कपड़े पहनाता था। तेरे फ़ोटो के सामने हम सेक्स किया है पता नही क्यों उसके साथ करते करते मैं भी इस चीज को एन्जॉय करने लगी।
राहुल- मम्मी ये क्या पागलपन है मेरे कपडे कौन से वाले, और आप सच मे एन्जॉय करती थी।
रमा- हाँ बेटा तेरे अंडरवियर और शर्ट पहनाता था मुझे उसी में सेक्स करता था वो। मैं कभी कभी तेरे जाने के बाद तेरे धोने वाले कपड़ो में तेरे चड्डी ढूंढ के उसको अपनी चुत में रगड़ती हु उस पे पिशाब भी करती हूं मुझे बड़ा अच्छा लगता है।
राहुल- आप इतनी ज्यादा गंदी हो मुझे पता नही था।
रमा- बेटा क्या मेरा सेक्स में दिलचप्सी गलत है ये नशा करने से तो अच्छा है 
राहुल का लंड टाइट हो रहा था 
राहुल- माँ तुम्हे जो करना है कर लो बस अब किसी दूसरे मर्द के पास मत जाना अगर तुम्हें मेरे कमरे और कपड़ो में मजा आता है तो यही एन्जॉय करो
रमा- अगर तू मेरे दो शर्त मान ले तो मैं दूसरे मर्द के पास नही जाऊंगी।
राहुल- क्या मा
रमा- तू मेरे जान है ना तू मेरे साथ वो सब करेगा जो एक औरत मर्द करते है मेरे सारे किनक्स पूरी करेगा और दूसरी उस डॉक्टर की बेटी लता को पटाएगा ओर उसको अपना दीवाना बना कर उससे सेक्स कर के छोड़ देगा ।
राहुल- मा मैं तुझे हर वो चीज दूंगा जो तुझे चाहिए लेकिन मुझे लड़की पटाने नही आता 
रमा- तुझे में वो सीखा दूंगी। अब तू ये बता की पहले क्या देखेगा मेरे निप्पल या मेरे चुत ? 
राहुल सकपका गया उसका लंड तना हुआ था पर वो कुछ बोलने की स्थिति में नही था
रमा- तेरे नोटस येही रखे है मेने जानबूझ के यह रखे थे कि तू इन्हें लेने आएगा आ तेरे शर्मीलेपन का इलाज करू।
रमा अपने मैक्सी को उठा कर अपनी गीली चुत के दर्शन कराती है 
Reply
02-01-2019, 02:07 PM,
#2
RE: Indian Sex Story अहसास जिंदगी का
रमा- पता है इस वीडियो में एक माँ अपने बेटे को अपनी चुत पिला रही है चल आ मेरे चुत गंदी है इसे चाट के साफ कर 
राहुल अपनी मा की चूत को अपनी उंगलियों से टच करता है बड़ी गरम पूसी थी। वो चुत का थोड़ा सा लासालसा पानी अपनी उंगलियों में लेता है उसको मुह में लेके टेस्ट करता है और फिर अपनी माँ की चूत को चाटने लगता है।
राहुल अपनी माँ रमा की चूत में मुह तो डाल देता है लेकिन उसको कैसे चूसते है उसे नही पता था वो बस मुह लगा के चुत पिये जा रहा था थोड़े से बाल मुह में लग रहे थे तो राहुल चुत को थोड़ा सा खोल देता है और अंडर की और जीभ डाल देता है तभी रमा बोलती है
रमा- बेटा कहा जीभ डाल रहा है वहा लन्ड डालते है तुझको चुत पीना नही आता क्या?
राहुल मुह बाहर निकाल के- मुझे कैसे आएगा मेने तो अब तक पोर्न में ही देख रखा है असल मे तो चुत आज ही देख रहा हु।
रमा- मैं सिखाती हु मेरे लाल अपनी जीभ को चुत के ऊपर वाले दाने पर लगा उसको अपनी जीभ से हिला उसको हिलाने से मुझे ऑर्गसम्स होंगे मज़ा आएगा।
राहुल चुत के ऊपर वाले दाने को हल्के से जीभ से चाटते हुए हिलाता है रमा के पैर कापने लगते है उसको सच मे बहुत मज़ा आ रहा है खास तौर पर उस कमरे के उसी बिस्तर पर उसका बेटा उसको रानी जैसे ट्रीट कर रहा था।
राहुल- ये नमकीन स्वाद क्यों आ रहा है माँ
रमा- चाटते रह ये मेरे चुत के ऊपर मेरे मुत की कुछ बूंदे रह गयी है तेरे चाटने से साफ हो जाएंगी फिर तुझे टेस्टी लगने लगेगी।
रमा अपनी जांघो को कस लेती है राहुल उसमे फस जाता है और अचानक से गीला लसलसा पानी छोड़ देती है राहुल के मुह में राहुल चुप चाप उसे पी जाता है थोड़ा सा पानी उसकी चीन पे लग जाता है। 
रमा- राहुल मेरे बच्चे एक गंदी चीज करेगा मा के साथ 
राहुल- बोल न मा कितना गंदा चाहिए तुझे 
रमा- तेरे मुह में एक छोटी से धार छोड़ दु बहुत मन कर रहा है।
राहुल- आज तू कर ले मन की कर ले बदमासी मेरे साथ 
रमा - जरा अपना मुह तो खोल
राहुल मुह खोलता है और रमा पानी की धार मारती है राहुल के मुह पे उसके पैर जोर से कापने लगते है और वो राहुल के मुह को फिर से अपनी चुत में लगा लेती है राहुल फिर से पीने लगता है चुत।
रमा- बेटे जरा मम्मा के लिप्स पे किस दो मैं भी देखु क्या पिया है तूने
राहुल अपनी माँ के लिप्स को चूमने लग जाता है अपनी जीभ को उसके जीभ से मिलाता है पहली बार किसी को किस की थी वो भी अपनी माँ को बहुत ऊतेजित हुआ जा रहा था।
रमा- ला अपना लन्ड दिखा मुझे देखु मेरे बेटे ने कितना टाइट कर रखा है उसे।
राहुल लन्ड पैंट से बाहर निकालता है उसका तना हुआ लन्ड उस डॉक्टर से भी बड़ा था रमा झट से उसे पकड़ के मुह में लेने लगती है।
राहुल- आह क्या गजब का एहसास है माँ चूस इस लन्ड को तेरे लिए कब से खड़ा है।
रमा जोर जोर से चूसने लगती है कि तभी राहुल का सफेद वीर्य माँ के मुह में ही छूट जाता है रमा उत्तेजना में पानी चूस लेती है लेकिन पानी बहुत ज्यादा था थोड़ा सा थुखना पड़ा।
रमा- बेटा ये क्या किया इतनी जल्दी छूट गया तेरा पानी
राहुल- तुम्हारे दांतो से लन्ड की चमड़ी टकरा कर लंड का पानी जल्दी छूट गया पहली बार मेरा लन्ड मुह में गया है वो भी तुम्हारे।
रमा- अभी ये लन्ड मेरे चुत में भी जाएगा मेरे लाल । आ तेरे लन्ड को चूस के साफ करू फिर इसे फिर से टाइट कर के चुत के दर्शन करवाउंगी।

राहुल- ले मा इस लन्ड को चूस के साफ कर दे पूरा सिकुड़ गया है 
रमा पूरा लन्ड मुह में के राहुल का लण्ड चूस जाती है राहुल थोड़ा सा रिलैक्स हो जाता है। रमा भी थोड़ा सा सांस लेती है।
रमा- राहुल सारे कपड़े उतार के नंगा हो जा और हा अपनी चड्डी दे मुझे मुह पोछना है तेरा सारा पानी लसलसा रहा है मेरे चेहरे पर।
राहुल- तू भी मैक्सी उतार दे माँ कब तक आधी नंगी रहेगी पूरी हो जा मुझे अपनी चूची दिखा न
रमा अपनी मैक्सी उतार देते है अन्दर केवल सफेद रंग की ब्रा पहन रखी थी राहुल अपने सारे कपड़े उतार देता है और अपनी चड्डी से खुद अपनी माँ का मुह पोछता है। रमा बड़े मजे से उसकी चड्डी से सूंघ सूंघ कर अपना चेहरा साफ करवाती है।
राहुल- तूने तो अपना चेंहरा साफ कर लिया मैं किस्से साफ करु तूने तो पैंटी भी नही पहनी माँ
रमा- तू मेरे ब्रा ले ले बेटा और ले मेरे चूची भी देख ले हाथ लगा के 
राहुल- मा तेरी चूची बड़ी सॉफ्ट है चूस लू क्या इसे
रमा- चूस ले मेरे लाल इन्ही निप्पल्स से तुझे दूध पिलाकर तुझे जवान मर्द बनाया है आ प्यार से चूस ले।
राहुल अपनी माँ के ब्रा से मुह पोछता है और अपनी माँ के प्यारे निप्पल्स को धीरे धीरे चूसने लगता है रमा गरम हो जाती है निप्पल्स टाइट होने लगती है 
रमा- ए राहुल धीरे से काट न मेरे चूची को टाइट हो रही है 
राहुल जोश में आ कर जोर से काट लेता है की रमा के निप्पल्स से खून निकल आता है।
रमा- आहहहहहह ये क्या किया राहुल तूने खून निकल दिया काट के 
राहुल- सारी मा जोश में तेरे निप्पल्स खा गया कुछ लगा दु क्या
रमा- अपनी लार लगा दे कुत्ते इतनी जोर से खा गया तू
राहुल- लेकिन लार से ठीक हो जाएगा माँ 
रमा- लार एंटीसेप्टिक होती है मेरे लाल और सुन जरा सा चख ले मेरे खून को जरा सा ही टेस्ट करियो पी मत जाइयो वैम्पायर की तरह
राहुल - मा तुम भी न । ला तेरा खून ही तेरा खून पियेगा मेरे जानू। मुझे कुत्ता दुबारा बोल न माँ
रमा- पी ले मेरे कुत्ते मेरा खून थोड़ा सा। aahhhhhhhh
राहुल पी गया और अब भी रमा की चुचिया टाइट थी। 
रमा- मेरे प्यारे कुत्ते एक गंदा का करेगा क्या
राहुल- बोल न मेरे प्यारी माँ।
Reply
02-01-2019, 02:07 PM,
#3
RE: Indian Sex Story अहसास जिंदगी का
राहुल- क्या करू मेरे प्यारी मा कितना गंदा चाहिए तुम्हे 
रमा- मेरे काँख को चाट न मेरे लाल देख कितने पसीने से भरे पड़े है
राहुल- तुम्हारे अंडरआर्म्स तो बालो से भरे से कितना पसीना भरा होगा तुम चाहती हो में इसे चाटु?
रमा- हाँ मेरे लाल चाट मेरे पसीने और मेल को चटाने में मुझे बड़ा मजा आता है 
राहुल- जब तेरे धार मुह में ले सकता हु तो पसीना क्या चीज है मेरे जान 
राहुल अपनी माँ के अंडर आर्म्स को चाटने लगता है उसके बालो को अपनी जीभ से चाटने लगता है उसके धीरे धीरे चाटने से रमा को हल्की हल्की गुदगुदी सी होने लग रही थी बहुत मजा आ रहा है उसको
राहुल- माँ मेरे काँख को भी तुम्हे चाटना पड़ेगा 
रमा- तू जो कहेगा मेरे लाल चाट लुंगी जैसे तू चाहेगा वैसे करूँगी 
राहुल-अब चुत दे देना माँ या कोई और बदमासी करनी है तुझको पहले
रमा- करेगा एक बहुत गंदी चीज है वो डॉक्टर भी नही कर पाया लेकिन मुझसे करवाया उसने
राहुल- तब तो में जरूर करूँगा तुझे उसकी कभी याद नही आने दूँगा 
रमा- राहुल मेरे गांड चाट न ? प्लीज 
राहुल- गांड पर वो गंदी जगह है वहाँ से हगते है माँ कैसे चाट सकता हु मेने पोर्न में देखा है लेकिन ये मेरे बस की बात नही है
रमा उल्टा हो के उसके सामने आपनी गांड खोल के दिखाते हुए
रमा- देख मेरे गांड कितनी साफ है अंडर तक देख कितनी सॉफ्ट और गोलदार हे इसे चाटने के लिए लडक़े मरते है वो डॉक्टर मेरे गांड मारता था लेकिन चाटता नही था मेरे बड़ी ईक्षा थी कि कोई मेरे गाड़ में अंडर तक जीभ डाल के उसको चूसे । तू नही करेगा तो में कहा जाउ किसी अनजान को ये मजे में क्यों दु तू मेरे गांड मार लेना लेकिन प्लीज एक बार चाट न बुरी लगे तो थोड़ा सा चाट के छोड़ दियो।
राहुल-अपनी माँ की ईक्षा हर हाल में पूरा करूँगा तेरे गांड भी बहुत कर्वी है बीच का छेद भी क्यूट सा है आ इसको अपनी जबान से भर दु तूने गांड साफ तो की है ना
रमा- नही कुत्ते तू साफ करेगा न इसलिए छोड़ दी है तुझे क्या लगता है रोज बाथटब में लेट के पूरा बदन साफ करती हूं गांड क्या छोड़ दूंगी हरामी पूरे मूड की माँ मत चोद अगर अपनी माँ छोदनी है तो गांड चाट अच्छे से
राहुल- अरे माँ गरम क्यों हो रही है तुझे अब मैं ही चोदा करूँगा तेरे गांड को पूरा खोल के चाट के मरूँगा।
रमा- चाट न मेरे प्यारे कुत्ते मेरे हरामी चाट न मेरे गांड
राहुल- एक बार मादरचोद बोल न तेरे गांड के बाल भी खा जाऊंगा मेरे जान
रमा- मेरे गांड चाट न मादरचोद मम्मा को चोदेगा नही मेरा बेटा आ न 
राहुल रमा की गांड खोल के उसके अंदर जीभ डालता है एक अजीब सी खुशबू आ रही थी उसकी माँ की गांड इतनी मीठी होगी उसे पता नही था वो बस जीभ अन्दर घुसाने लगा साइड के बालों को अपने चेहरे पे महसूस कर रहा है इतना गंदी जगह इतनी अच्छी कैसे हो सकती है वो गांड को ऊपर से नीचे पूरी गोलाई तक चाट रहा था इतना मजा आ रहा है।

राहुल- माँ तुम्हारे गांड इतनी टेस्टी कैसे लग रही है तुम इतनी गरम कैसे हो रही हो वो डॉक्टर चूतिया था जिसने ये गांड न चाटी मैं तो इसको क्रीम लगा के चाटु
रमा- बस थोड़ा सा और अंदर जीभ घुसा मेरे लाल तू चाट मेरे गांड रहा है पर मेरे चुत गीली हुई जा रही है ऐसा मुझे कभी फील नही हुआ बेटा इतना आंनद बहुत मजा आ रहा है।
राहुल- थोड़ी गांड ढीली तो कर न तभी तो जीभ अंडर जाएगी मेरा लन्ड तन के बहुत हार्ड हो गया है इतनी गंदी चीज कर के मुझे इतनी उत्तेजना पहले कभी महसूस नही हुई। मैं कभी कभी तुझे नहाने के बाद निकलते हुए देखता था तेरे बदन को देख के मुठ्ठी मारा करता था आज तू पूरी मेरे हो गयी है।
रमा- अहह बेटा इतना भी अन्दर मत जा की में कंट्रोल खो दु आ मेरे चुत मार ले अब में खुद और नही रुक सकती।
रमा राहुल के सामने सीधी हो जाती है और अपने पैर खोल देती है 
राहुल- मेरे लिए कुछ गंदा करोगे तब मरूँगा तेरे चुत 
रमा- अच्छा अब मुझे तड़पायेगा तू अपनी मा को आ न डाल दे तेरे गंदी ख्वाहिशे बाद में पूरी कर दूंगी
राहुल- नही माँ ये कर दे और तुझे में चोद दूंगा 
रमा- उफ्फ हो बता मेरे कुत्ते तुझे क्या करवाना है
राहुल-मेरे बिस्तर पे मूत दे 
रमा- हाय ऐसे कंडीशन में मुतवायेगा हरामी गीले बिस्तर पे चोदेगा मुझे कुत्ते
राहुल- है मेरे प्यारी गंदी माँ तुझे तेरे मूत्र में नहला के लिटा के चोदूँगा 
रमा- ठीक है मेरे लाल लेकिन में मुतुंगी तभी जब तू मेरे चुत के ठीक नीचे मुह खोल के लेटेगा लेकिन उसे पीना मत पता चले बिस्तर भी गीला न हो और मेरे मूत भी खत्म हो जाये
राहुल- तू इतनी गंदी है पहले पता होता तो तुझे जाने कितनी बार चोद चुका होता।
राहुल रमा को मूतने के स्टाइल में बैठा के उसकी जांघो के नीचे लेट जाता है रमा मूतने की कोशिश करती है 
रमा- अरे राहुल चुत मत चाट में मूतने में कंसन्ट्रेट नही कर पा रही और गांड मत टच करियो कुछ निकल गया तो मूड की माँ बहन हो जाएगी समझा
राहुल-जल्दी मुत न माँ 
रमा मूतने लग जाती है राहुल उसे मुह में भरने लगता है सारा पानी बिस्तर पे मुह से फैला देता है।

रमा- राहुल मैं मुत ली जितना मुझसे हो पाया अब मेरे थोड़े मुत अपने मुह से मेरे मुह में डाल न
राहुल अपनी माँ को चूमता है उसके मुत को मुह में लिए दोनों कुछ देर तक एक दूसरे को पागलो की तरह चूमते है
राहुल- आ मा बहुत गंदी चीजे कर ली अब अपनी चुत दे दे मुझे
रमा- मार ले अपनी माँ की चुत मादरचोद 
रमा पेअर खोल देती है राहुल अपना ताना हुआ लन्ड मा की चुत में धीरे धीरे घुसेड़ता है 
रमा-अहह तेरा लण्ड तो बड़ा है रे तेरे बाप का भी इतना बड़ा नही था अहह धीरे धीरे झटके दे ना मेरे लाल 
राहुल- तेरे को उस डॉक्टर से ज्यादा ही झटके दूँगा माँ 
रमा- अरे वो तो तेरे सामने फैल है काश में पहले ही तुजसे चुद गयी होती अहह
राहुल- माँ तेरे चुत मेरे पहले चुत है उम्मीद नही थी कि मैं तुझसे अपनी शुरुआत करूँगा
रमा- तू इसी चुत से निकल के इसी को चोद रहा है मेरे मादरचोद अब जोर से चोद मुझे फ़रिख कर 
राहुल जोर जोर से चोदने लगता है रमा जोर जोर से चिल्लाने लगती है रमा फ़रिख हो जाती है और रिलैक्स हो जाती है 
रमा- बस कर मेरे लाल मेंरा पानी चुत से निकल गया है
राहुल-तेरा निकल गया है पर मेरा नही निकल रहा दूसरी बार मे जल्दी नही निकलता मेरा 
रमा- तो क्या करूँ में बता कुत्ते
राहुल-चलो घोड़ी बनो मैं तुम्हारे गांड मरूँगा
रमा-तुझे कैसे माना करू तू मेरा राजा बेटा है ना मैं उल्टी हो जाती हूं
रमा घोड़ी बन जाती है राहुल उसकी गांड में पहले थूकता है फिर लन्ड घुसेड़ देता है । रमा गांड पहले भी मरवा चुकी होती है इसलिऐ पूरा घुसवा लेती है अंडर की पकड़ से राहुल का लण्ड अच्छे से रगड़ता है 
राहुल- अहह माँ में भी झड़ने वाला हु 
रमा- झड़ जा मेरे कुत्ते अच्छा है मेरे चुत में न झड़ा वरना तुज जैसा एक और हरामी मादरचोद हो जाता जो तेरा भाई भी होता और बेटा भी
राहुल पूरा पानी झड़ देता है और लन्द गांड से बहार निकाल लेता है 
राहुल- वाह माँ मेरा पहली चुदाई मस्त हुई चुत भी मिली और गांड भी
रमा- मेने आज तक इतनी गाली नही दी होंगी मुझे बहुत अच्छा लगा बहुत दिनों बाद मेरे अपने बेटे ने मुझे सन्तुष्ट किया है मेरे सारी गंदी विश पूरी करके।
राहुल- सारी विश पूरी हो गयी या कुछ बाकी है 
रमा-आज के लिए इतना काफी है आगे और भी चीजे है जो मैं सोचती थी करने को अब तेरे साथ करूँगी।
राहुल- मा मेरा एक काम कर दे बहुत गंदा है मेने पोर्न में देखा था 
रमा- क्या है बता
राहुल- तेरे गांड में जो मेरा पानी है उसे अपने मुह में ले न 
रमा- अरे वाह मेरे राजा गाड़ से निकालू कैसे तू अपनी उंगलियों से निकाल दे मैं ले लुंगी मुह में 
राहुल झट से मा की गांड में उंगली डालता है थोड़ा सा पानी निकाल के अपनी माँ के मुह में डाल देता है रमा बड़े प्यार से उसको पी जाती है 
राहुल- मैं नहाने जा रहा हु पूरे मुह और बदन में तेरा मुत लग गया है 
रमा- तू जा नाहा ले मुझे तेरा बिस्तर भी धोना है सारा गीला और मुत से भर गया है 
राहुल नहाने चला जाता है ।
Reply
02-01-2019, 02:07 PM,
#4
RE: Indian Sex Story अहसास जिंदगी का
राहुल नहाते हुए एक अजीब से ग्लानि और खुशि दोनों महसूस कर रहा थस। राहुल सोचने लगा कि जिंदगी किस मोड़ पे ले के आ गयी अपनी माँ को उसने इतने किंकी रूप में उसने कभी कल्पना भी नही की थी।
इधर रमा सारे कपड़े धोने में लग गयी उसका भी उसके बेटे जैसा हाल हो गया है। गलत भी लगता और खुशी का एहसास भी होता। रमा नहाने के लिए अपने बाथरूम चली जाती है। 
कुछ देर बाद राहुल नहा के अपने बिस्तर पे लेट जाता है। तभी रमा आ जाती है नहा के 
रमा- राहुल अब तू कॉलेज जावेगा की नही
राहुल- नही माँ अब मूड नही कर रहा 
रमा- तू चला जा तुझे उस लता को पटाने की कोशिश करनी है
राहुल- माँ हमे उसकी क्या जरूरत है मैं क्यों उस डॉक्टर से बदला लेने के लिए उसकी बेटी ली लाइफ बर्बाद करें
रमा- बेटा मुझे उसने अपनी फैमिली के लिए छोड़ दिया मैं चाहती हु उसकी फैमिली भी तड़पे अपनि बेटी के दर्द को देख के
राहुल- माँ तेरे दर्द को संभालने के लिए मेने ये सब कुछ किया वो डॉक्टर भी झेलेगा ये दर्द लेकिन अगर उसकी बेटी से मुझे से प्यार हो गया तो मैं उसे धोखा नही दे पाऊंगा।
रमा- देख बेटा में तुजसे बहुत प्यार करती हूं लेकिन सच ये है कि मैं 42 साल की हु तेरा साथ ज़िंदगी भर नही दे पाऊंगी अगर वो तुजसे प्यार करने लगती है तो तू उससे शादी कर लियो लेकिन उसको यूज़ कर के छोड़ना कुछ दिनों के लिए ताकि वो डॉक्टर खुद चल के मुझसे अपनी बेटी के लिए तेरा हाथ मांगे और मैं उससे वो करवाऊ जो उसने कभी न किया मेरे साथ। उसको अपने पैरो पर गिरता देखना चाहती हु।
राहुल- माँ जरा मेरे पास आ के लेट न 
रमा- अभी सिर्फ टॉवल में हु ऐसे ही आ जाउ
राहुल- अब क्या फर्क पड़ता है सिर्फ मेरे कंधे पर सिर रख के लेट न
रमा- सुन फिर मूड न बनइयो तू कमजोर हो जाएगा मेरे लाल
राहुल- माँ तुम इतनी गालिया और गंदी चीजे इतने मस्त तरीके से कैसे बोल लेती हो मेने पहले कभी नही देखा ऐसा तुममे
रमा- बेटा सेक्स में कुछ नया करने से एन्जॉयमेंट आता है मैं पहले ऐसे नही थी पर उस डॉक्टर ने मुझे बिगाड़ दिया। तेरे को भी गाली सुनने में मज़ा आता है पर तु मुझे गाली नही देता क्यों 
राहुल- माँ तुझे गली देने का मन नही कर रहा था पता नही क्यों मैं तेरे गली सुन सकता हु पर तुझे देने में मुझे अजीब सा लगता है 
रमा राहुल के लिप्स को पी लेती है 
रमा- मेरा प्यार बेटा तू मुझसे जो चाहें जैसे चाहे में करूँगी I love u Rahul my sweety pie.
राहुल- आई love यु too ममा। मुझे फिलहाल तुम्हारे बदन की गर्माहट चाहिए 
रमा- अब तू तैयार हो और कॉलेज जा ज्यादा लेट न कर और ये तना हुआ लन्ड संभाल अब तुझे साम को ही मिलेगा मा का प्यार। 
राहुल- साम को तेरे लिए एक गिफ्ट ले के आऊंगा मेरे जान 
राहुल- चल कपड़े पहन और कॉलेज जा
राहुल- ओक एक बार चूची तो दिखा दे ना।

रमा- अच्छा मेरे हरामी औलाद ये जो खून का घाव दिया है चुचिया दिखाने से डर लग रहा है मुझे। 
राहुल- दिखा दे ना टच नही करूँगा
रमा- ले तू सब देख ले टॉवल ही उतार देती हूं।
राहुल- अहह तेरे चुचे तेरे चुत घूम के गांड दिखा न
रमा- अब बस कर और जा कपड़े पहन 
राहुल- अच्छा माँ एक बात तो बता में लता से क्या बात करूंगा।
रमा- उसे रोकना और कहना कि तुम उससे जरूरी बात करना चाहते है अकेले में और फिर उसका वैट करना।
राहुल- वो नही आएगी माँ वो तो बात भी नही करती है 
रमा- थोड़ा सा परेशान सा लगना और आंखें लाल कर लेना रगड़ के वो जरूर आएगी ,थोड़ा अच्छा बन के जाइयो 
राहुल- ओके आज ही कोशिश करता हु लेकिन आ गयी तो बात क्या करूँगा मुझे ये भी बता दे
रमा- तू उससे ये कहना कि मेरे माँ कितनी डिप्रेसन में है और तुम खुश थे कि डॉक्टर मुझसे अलग हो गया है लेकिन डरते हो कि मैं कही सुसाइड न कर लूं ।
राहुल- ये सब बाते करने से क्या वो पट जाएगी
रमा- डॉक्टर अक्सर अपनी पत्नी और बेटी के बारे में बात किया करता था मुझे कहता था कि वो अपनी बेटी को मौका मिलने पर जरूर चोदेगा। वो उसकी पैंटी और ब्रा कभी कभी लाता था उसे मुझे पहना के मुझे अपनी बेटी के नाम से पुकारता था और चोदता था।
राहुल- मा तुम ये सब कर लेती थी तुम कितनी गंदी हो 
रमा- बेटा मैं उससे बहुत प्यार करती थी और सच ये है कि उसने ही तुझपे मेरा सेक्सुअल आकर्षण बढ़ाया मैं तुझे अपने साथ सेक्स के लिए जाने कब से कल्पना कर रही थी मैं उस डॉक्टर को राहुल बुलाती थी। जब एक माँ अपने बेटे से सेक्स के बारे में सोच सकती है तो बाप भी अपनी बेटी को चोद सकता है ना 
राहुल- क्या उसने अपनी बेटी को सिड्यूस किया होगा
रमा- एहि तुम्हे उसके दिल से निकलवाना है उसे लगना चाहिए कि तुम केयरिंग हो लडकिया ऐसे लड़को को बहुत पसन्द करती है।
राहुल अपने नए कपड़े पहन के कॉलेज जाता है वहां वो कैंटीन में जाता है जहाँ अक्सर लता अपने दोस्तों के साथ टाइम पास करती थी। राहुल नर्वस था और लता से डायरेक्ट बात करने की उसमे हिम्मत नही थी क्यों कि वो जूनियर्स की सुनती भी नही थी। बहुत अकड़ू किसम की थी। लेकिन अपनी माँ से संभोग के बाद उसमें गजब का आत्मविस्वास आ गया था। उसने कहा चलो कोशिस तो करते है। राहुल अपनी आँखों को जोर से रगड़ के लाल कर लेता है।
राहुल- लता जी क्या में आपसे अकेले में कुछ बात कर सकता हु 
लाता- तुम तो फर्स्ट ईयर में हो न आई डोन्ट टॉक तो जूनियर्स गो अवे आई एम नाट इंटरेस्टेड।
राहुल- प्लीज एक बार बात तो सुन लो
लता- सुना नही क्या कहा मेने और तू क्या बात करेगा मैं तुझे जानती हूं भाग जा यहां से 
राहुल- बात बहुत इम्पोरटेन्ट है प्लीज् सुन लो न
लता गुस्सा हो जाती है तभी उसका एक दोस्त गुस्से में थप्पड़ मारता है कहता है तुझे समझ मे नही आता वो बात नही करना चाहती सीनियर से बात करने की तमीज नही है तुझे। राहुल के गाल लाल हो जाता है उसके आंखों से आंसू निकल जाते है ।
Reply
02-01-2019, 02:07 PM,
#5
RE: Indian Sex Story अहसास जिंदगी का
राहुल- देखिये मुझे एक जरुरी बात करनी है और मैं कोई इश्क़ मुश्क की बात नही करना चाह रहा बात दूसरी है
लता- तेरे औकात है जो इश्क़ की बात भी करेगा 
राहुल- ये तुम्हारे डैड के बारे में है क्या तुम अब भी बात नही करोगे
लता- मेरे डैड के बारे में क्या हुआ क्या बात है और मेरे डैड से तुम्हारा क्या लेना?
राहुल- मैं तुम्हारा 4 बजे इसी कैंटीन में इन्तेजार करूँगा और अपने इस दोस्त से कह दीजिये की इंसान की मजबुरी को बिना समझे किसी पे सीधे हाथ नही छोड़ना चहिये ये सीनियर होगा लेकिन किसी को सजा देने का हक़ नही है इसे।
राहुल अपने आशू पोछ के वहा से निकल जाता है । लता दंग रह जाती है। लता अपने दोस्त से कहती कि की तुझे उसे थप्पड़ मारने की क्या जरूरत थी यार। लता की एक और सहेली कहती है यार ये तेरे डैड को जानता है क्या। लता कहती है शायद उनका स्टूडेंट रहा हो । लता राहुल की माँ और अपने डैड के बारे में जानती थी अपने दोस्तो को सामने एम्बररेसेड होने से बचने के लिए बात घुमा देती है। कहती है मै सोचूंगी की मिलु न मिलु इससे। 
राहुल बहुत डिस्टर्ब हो गया था इतनी बेज्जती कभी फील नही की थी अब बस वो चार बजने का वैट करने लगा।

शाम के 4 बज चुके है लता अभी आयी नही थी राहुल कैंटीन में बैठा हुआ था घड़ी की सुईया आगे न बढ़ रही हो जैसे बेचारे का टाइम ही नही कट रहा था। राहुल सोच रहा था अगर बाप के नाम से भी नही आयी तो सारे प्लान फैल है माँ को क्या मुह दिखाऊंगा सारे मजे की माँ बहन हो जायेगी। 4:15 हो गए लता का अता पता नही था।
तभी सामने से लता आती हुई नजर आती है राहुल मुस्कुराने लगता है लेकिन जैसे जैसे वो करीब आती है खुद को सीरियस बना लेता है।
लता- बोल क्या बात है क्यों बुलाया मुझे क्या बताना है डैड के बारे में 
राहुल- मैं बहुत परेशान हु और इसकी वजह तुम्हारे डैड है तुम जानती हो न मेरे माँ और तुम्हारे डैड के बारे में।
लता- मेरे डैड के पर्सनल मामलों में दखल नही देती और तुम उनसे परेशान हो तो में क्या कर सकती हूं
राहुल- तुम क्या सोचती हो मेरे माँ के पर्सनल मामलों में मुझे कोई दिलचस्पी है मैं भी तुम्हारे तरह अपनी लाइफ से मतलब रखने वाले लोगो में से हु लेकिन पानी सिर के बहुत ऊपर जा चुका है अब मुझे डर लगने लगा है 
लता- क्या मतलव है तुम्हारा मेरे डैड मेरे सर पे हाथ रख के कसम खाई थी कि वो रमा को छोड़ देंगे अब क्या दिक्कत है तुमको। पैसे की जरूरत है या ब्लैकमेल करने का इरादा है मुझे 
राहुल- नही न पैसे की जरूरत न ही ब्लैकमेल कर्म करने का इरादा है तुम्हारे बाप को मैं बिलकुल पसंद नही करता हु और उनके अलग होने से मुझसे ज्यादा खुश कोई नही था पर मेरे मा डिप्रेशन में चली गयी है ना होस्पिटल जाती है न कुछ करती है केवल मरने की बाते करती है कल ही मेने उन्हें सुसाइड करने से रोका है मैं उन्हें कितना संभालू ।
लता- हा तो मर जाये उसने हमारे घर को नरक बना दिया उसने मेरे माँ के आंसू देखे नही है मेरा बाप उसके लिऐ हम सबको छोड़ने को राजी था
राहुल- मेरे माँ सुसाइड नोट लिख के मरने जा रही थी जिसमे तुम्हारे बाप का नाम भी लिखा था अगर मैं उसे न रोकता तो तुम्हारा बाप फस जाता उसकी बहुत से पिक्स और तस्वीरें है माँ के पास। 
लता- क्या सच मे 
राहुल- हा आत्महत्या के लिए उकसाने के लिए तुम्हाारे बाप को सजा हो जाती अगर में उन्हें न रोकता तो
लता- ओह्ह मैं क्या कहूं तुमने उन्हें रोक के बहुत अच्छा किया तुम अपनी माँ को समझाते क्यों नही हो
राहुल- मैं समझा समझा के हार गया हूं वो मानती नही है मैं उनसे बहुत प्यार करता हु उनको खोना नही चाहता तुम्हारे पास तो माँ बाप दोनों है मेरे पास सिर्फ मेरे मा है
कहते हुए राहुल रोने लग जाता है लता को समझ मे नही आता है कि वो क्या करे वो राहुल के कंधे में हाथ रख के कहती है
लता- सुनो खुद को संभालो मैं भी अपने माँ के करीब हु मैं तुम्हारा दर्द समझती हु मैं क्या कर सकती हूं ये बताओ।
राहुल- तुम एक बार मेरे माँ को समझाओ की जो हुआ अच्छे के लिए हुआ है तुम्हारे परिवार की दुहाई दो कभी कभी एक अच्छाई इंसान के दर्द को कम कर देती है ।
लता- देखो तुम जो कह रहे हो ये में नही कर सकती में तुम्हारे माँ से नफरत करती हूं उसकी वजह से जो त्याग मैने किये है तुम सोच भी नही सकते। 
राहुल- तुम खुद सोचो न मैं भी तो दिल पे पत्थर रख के तुमसे विनती कर रहा हु अगर तुमने अपने बाप के लिए त्याग किये है तो एक त्याग और सही कम से कम वो भी जेल जाने से बच सकेंगे और हम लोग अपनी लाइफ में लौट सकेंगे।
लता- तुम नही जानते मैं किन राहो से गुजरी हु पर अगर मुझे अपने डैड को बचाना है तो में ये भी करूँगी।
राहुल- क्या तुम मेरे घर आने में कंफेर्टेबल हो 
लता- नही में कंफेर्टेबल नही हु लेकिन आऊंगी क्यों कि बाहर में दिखना नही चाहती तुम लोगो के साथ। मुझे तुमलोगो पे भरोसा भी नही है लेकिन में रिस्क लुंगी अपने डेड के लिए।
राहुल- हमारे लिए ऐसा करने के लिए थैंक्स तुम कल शाम को 5 बजे आ जाना।

राहुल शाम को अपने घर पहुँचता है लता को कन्विंस करना उसे जैसे बड़ी जीत जैसा था। राहुल डोर बेल बजाता है रमा दरवाजा खोलती है रमा ने मेकअप किया हुआ है और बहुत सेक्सी से टाइट सूट पहन रखा है राहुल उसे देखते ही खुश हो गया।
राहुल- वाह क्या खुशबू आ रही है तुम्हारे बदन से मा, बड़ी खूबसूरत लग रही हो मेरे जानू
रमा- तेरे प्यार की खुश्बू है मेरे लाल मेरे खूबसूरती भी तेरे मेरा बदन भी तेरा , अब अंदर आ जा नही तो पड़ोसी कहेंगे मा बेटे में क्या रोमांस चल रहा है 
राहुल- ओके मोम्मी डिअर 
राहुल घर के अंदर आ के अपनी माँ को जोरदार किश करता है।
रमा- ये किस खुशि में मेरे लाल लगता है मेरे लाल ने जीत हासिल करि है 
राहुल- हा मा लता कल घर आ रही है मेने उसे तुम्हे समझने को बोला है कहा है कि तुम सुसाइड न करो इसलिए तुम्हे समझाए।
रमा- अरे वाह इतनी गहरी बात कहा से सोच ली तूने मेने तो ये बताया नही था 
राहुल- सब तेरे प्यार का कमाल है सुन तेरे लिए कुछ लाया हूं तेरा गिफ्ट
रमा-क्या लाया है रे तू 
राहुल- तेरे लिए ब्रा पैंटी लाया हूं अब उतार ये कपड़े और ये पहन मेरे सामने
रमा- तेरे सामने पहनूँगी तो तुह मुझे पहनने कहा देगा नंगी देखते ही मुझे चोदने लगेगा मेरा कुत्ता।
राहुल- नही तू मेरे सामने पहन और अभी मुझे एक ब्लोवजोब देदे मेरे दिए हुए ब्रा पैंटी पहन के 
रमा- अरे आते ही अपना पानी पिला देगा तो रात भर क्या करेगा 
राहुल- सेक्स रात को डिनर के बाद करेंगे अभी मुझे तेरे मुह को चोद कर पानी निकलना है।
रमा- चल तेरे सामने ही नंगी होकर तेरे ब्रा और पैंटी पहनटी हु।

राहुल- रुको मैं म्यूजिक लगाता हु तुम थिरक थिरक के कपड़े उतारना 
रमा- गुड आईडिया डिअर 
राहुल म्यूसिक बजाता है और अपनी पैंट और कच्छे को उतार के सोफे पे बैठ जाता है। रमा थिरकते हुए अपने सूट को उतारती है पहले कुर्ती फिर पजामी राहुल का लिंग खड़ा हो जाता है अपनी माँ की कूल्हों को देख कर ।
राहुल- मा जरा पास तो आ 
रमा- पास तो आऊंगी मेरे जान अब बता पहले क्या उतारू ब्रा या पैंटी 
राहुल- पहले अपने चुचे आज़ाद कर मा उसको थोड़ा सा दबा 
रमा अपनी ब्रा उतार के अपनी चुचियो को दबाते हुए राहुल को काटने का इशारा कर के उकसाती है 
रमा- अब पैंटी उतार दु मेरे जान 
राहुल- तेरे मस्त टाइट चुचे देख कर लण्ड देख कितना तन गया है जल्दी से पैंटी उतार और आ जा मेरे पास 
रमा पैंटी धीरे धीरे अपनी जांघो से नीचे उतार देती है 
राहुल- रमा मेरे जान जरा मेरे जांघ में बैठ जा न 
रमा- रमा नही मुझे माँ ही बोल मादरचोद बोल मा मेरे जांघ पर बैठ मेरे लन्ड से अपनी गीली चुत रगड़ 
राहुल- आजा मेरे प्यारी माँ मेरे लन्ड को अपनी चुत से रगड़ 
रमा राहुल की जांघो में बैठ जाती है और उसके लन्ड को रगड़ती है
राहुल- चल जरा अपनी चुत को मेरे मुह के पास ले सोफे पे चढ़ के 
रमा-कुत्ता अपनी माँ की चुत को चाटे बिना नही मानेगा क्या ले चाट खड़ी हो गयी सोफे पे तेरे मुह के पास अपनी चुत ले के 
राहुल- हम्म मममममममम यम यम
Reply
02-01-2019, 02:07 PM,
#6
RE: Indian Sex Story अहसास जिंदगी का
राहुल पागलो की तरह अपनी माँ की चुत के फ़ांखो को खोल के चूसने लग जाता है ।
रमा- इतने प्यार से तो तूने मेरा दूध नही पिया होगा जितने प्यार से मेरे चुत पीता है मेरे मादरचोद लौंडे
राहुल- तेरे चुत है ही इतनी टेस्टी चसल उल्टी हो तेरे गांड का टेस्ट करवा।
रमा-ले कर के उलटी हो जाती हूं डाल लें अपनी जबान भीतर
राहुल अपनी जीभ अंदर तक डाल के लप लापता है पूरी गांड की गोलाई चाट जाता है 
रमा- कहा था न तो मुझे तेरा गिफ्ट नही पहनने देगा हरामी मेरे चुत गीली कर दी अब क्या करूँ बता
राहुल- चल अब मेरे गिफ्ट को पहन और मेरे लन्ड को चूसना सुरु कर दे मेरे मा
रमा- चल पहन लेती हूं लेकिन नई ब्रा और पैंटी आज तू खराब करवा रहा है
राहुल के सामने वो ब्रा और पैंटी पहन लेती है 
राहुल- आ चूस ले मेरा लन्द मेरे प्यारी माँ 
रमा अपना मुह खोल के राहुल के बड़े लन्द को चूसना सुरु कर देती है राहुल उसके सिर पे दबाब डालता है जिससे पूरा लण्ड उसके गले तक उतर जाता है रमा मुह से लन्द को निकाल के खाँसने लगती है 
रमा- अरे मेरे पेट मे डालेगा क्या लण्ड ऊपर ऊपर चूसने दे तेरा पानी चूस लुंगी
राहुल- चुप चाप पूरा लन्ड मुह में ले ले और पानी तू चुसेगी नही में तेरे गले के अंडर उतारूंगा
रमा- राहुल तू जानवर हो गया है मैं उल्टी कर दूंगी अगर दुबारा इतना अन्दर लण्ड गया मुह में फिर तू ही कहेगा मेरा गिफ्ट खराब कर दिया तुमने 
राहुल- ठीक है अभी उपर से चूस लन्ड को
रमा चुसने लगती है रशूल के लन्द को रगड़ रगड़ के चुस्ती है राहुल बहुत उत्तेजित हो जाता है उसका पानी छूटने ही वाला होता है वो झट से रमा के सिर को दबा के अपने लंड को पूरा उसके गले मे उतार देता है और जब तक सारा पानी उसके गले मे छूटने लगता है रमा को कस के पकड़े रहता है
सारा पानी निकलते ही वो रमा के सिर को छोड़ देता है रमा जोर जोर से खाँसने लग जाती है और फिर उल्टी कर देती है।
राहुल-अब आया न मजा ahhhhh
रमा- ये क्या किया तूने सारा सोफे की माँ चोद दी तूने हरामी तेरे ब्रा भी उल्टी से खराब हो गयी इतना एक्ट्रीम ब्लोवजोब मेने आज तक नही किया था 
राहुल- आई लव यू my mom तेरे अलावा कोई कर भी नही सकता ये
रमा-अच्छा कुत्ते इतना एक्ट्रीम तुझे भी करना पड़ेगा ,चल मेरा एक गंदा काम कर 
राहुल-क्या गंदा करवाओगे
Reply
02-01-2019, 02:08 PM,
#7
RE: Indian Sex Story अहसास जिंदगी का
रमा- मुझे अभी किश कर अभी के अभी 
राहुल- लेकिन तूने अभी उल्टी करि है माँ
रमा- कर न टेस्ट कर के बता क्या खाया था मेने 
राहुल- ओके मेरे जानू आ मेरे पास 
राहुल रमा को किस करने लगता है रमा राहुल की जीभ से अपनी जीभ मिला रही होती है वो राहुल को जोर से किस करने लगती है और हल्की से डकार मरती है राहुल के मुह में ।
राहुल- ओह्ह मा कितनी डिसगस्टिंग हो तुम मेरे मुह में डकार मारी
रमा- जब तू मेरे गले के अंडर तक पानी छोड़ सकता है तो डकार मारने में तुझे बुरा नही मानना चाहिए मेरे लाल
राहुल- वैसे इतना बुरा भी नही था और तूने सेब खाये है माँ 
रमा- ओह्ह मेरा cute बच्चा mamma के सेब खा लिए तूने
राहुल- सारे सोफे पे और अपने सीने पे उल्टी गिरा ली ह तुने मेरा लन्ड भी गंदा कर दिया चल अब साफ कर मेरा लन्ड
रमा- अभी कर देती हूं मेरे बच्चे 
रमा लन्ड चुसने लग जाती है और राहुल का लन्द साफ कर देती है 
राहुल- मेरे टट्टे भी साफ कर न मा
रमा- आ मेरे बच्चा अभी चाट लेती हूं वहाँ
राहुल- मेरे गांड में भी जीभ फिरा दे मेरे प्यारी मा
रमा- जरा अपनी टांगे उठा वहां भी चाट लेती हूं
राहुल- वाह आज मेरा लकी डे है ahhhh
रमा- राहुल अभी तुझे मेरे गर्दन पे जो लगा पड़ा है वो साफ करनी है 
राहुल- ला अभी चाट के साफ करता हु 
राहुल मा की गर्दन से सीने तक चाट के साफ कर देता है 
राहुल- आज तो तूने गजब की ट्रीट दी है माँ 
रमा- मेने आज लंच में मिल्क और सेब खाये थे तूने सब निकलवा दिया। चल अब मुझे नहाना पड़ेगा और तू भी नहा ले मुझे सोफे को भी साफ करना पड़ेगा तेरे चक्कर मे कभी बेड कभी सोफे जाने क्या क्या साफ करूँगी अब 
राहुल-तू चीज ऐसे है माँ इतनी सेक्सी औरत मेरे है और तुझे तो पूरे दिन चोदता रहू बस ये दिल करता है।
रमा- तू मेरे चुत की रेड मार देगा हरामी चल जा नहा।

रमा नहाने चली जाती है और राहुल नहाने के बाद सिर्फ टॉवल में अपने बेड पर लेट जाता है। रमा जब नहा के निकलति है तो गाउन पहन लेती है उसने कोई चड्डी और ब्रा नही पहनी होती है। राहुल रमा को देखता है और मुस्कुराता है रमा राहुल को देख जे प्यारी से kiss मारती है।
रमा- राहुल ये जो एहसास है वो कभी ख़त्म न हो में तुम्हे बहुत प्यार करने लगी हु बेटा सच तो ये है तेरे पापा ने भी कभी इतना प्यार नही किया मुझे ,उस डॉक्टर ने भी मजे लिए है मुझसे, तू मेरा अपना अंश है तू जो भी करता है मुझे करने में खुशि होती है, जब तुझे चूमती हु ऐसा लगता है तुझे चूमते रहू तू मेरा अपना बेटा है अजीब सी ममता और वासना की मिक्स फीलिंग होती है मुझे। जब तक तूने मुझे छुआ नही था मैं तुझसे कितनी अनजान थी तेरे करीब रह कर भी तुजसे दूर थी। मुझे ये भी पता है तू मुझे कभी छोड़ के नही जाएगा और मुझे तेरे संग सेक्स करने का कोई गिल्ट नही है। I love u राहुल बेटा। 
रमा राहुल के पास आ के रोने लग जाती है। राहुल भी इमोशनल हो जाता है 
राहुल- i love u too मा मुझे माफ़ कर दे आज तुझे मेने बहुत बुरी तरह से ब्लोवजोब करवाया। मेने तुझे अपनी सेक्स के किंक को भुजाने का जरिया समझ लिया। 
रमा- मुझे कोई दिक्कत नही है तू मेरे जान भी मांग ले मैं हस के दे दूंगी बस मेरे गले मे बहुत दर्द हो रहा है में खाना भी नही खा पाऊंगी, अब मुझे रात भर का आराम दे दे ।
राहुल- ओह्ह मेरे प्यारी मा कही तू बीमार न पड़ जाए हम एक दूसरे के साथ बहुत ही गंदा सेक्स कर रहे है गंदी जगहों पर चुमते है गंदी चीजे टेस्ट करते है। 
रमा- बेटा मैं ट्रैंड नर्स हु और सफाई के बारे में अच्छे से जानती हूं तू मेरा बेटा है और हम दोनों काफी बॉडी के बैक्टीरिया शेयर करते है तो हमे कोई दिक्कत नही होने वाली है। तुज से मै सारे गंदे चीजे जो सिर्फ पोर्न पे देखते है पर सच मे कर नही पाते है ,में कर सकती हूं और करना चाहती हु। तू मुझसे नार्मल सेक्स भी कर सकता है और पानी मेरे अंडर भी छोड़ सकता है इट्स ओके my love।
राहुल- अगर प्रेगनेंट हो गयी तो माँ
रमा- कोई नही जब हो गयी तो देखा जाएगा क्या करना है ।
राहुल- मा तू मिल्क पी ले और सो जा मैं डिनर कर के तेरे साथ ही सो जाऊंगा और प्लीज मेरे साथ नंगी सोना तुम्हे बचपन मे पकड़ के सोता था अब नंगी पकड़ के सोऊंगा
रमा- तुझे सेक्स करना हो कर लियो लेकिन मुह में नही ले पाऊंगी।
राहुल- नही मेरा भी लन्ड जरूरत से ज्यादा रगड़ गया है आज रात इसे आराम देता हूं । 
राहुल डिनर कर के और रमा दूध पी के साथ मे बिस्तरा में सो जाते है दोनों पूरे नंगे होते है। थकान के मारे जल्दी सो जाते है।

राहुल और रमा साथ मे सो रहे होते है तभी सुबह 7 बजे का अरलाम बज जाता है दोनों की नींद टूट जाती है। राहुल पहले आंखे खोलता है आंखें खोलते ही माँ का नंगा और गरम बदन उसके सामने होता है। रमा भी उठ जाती है और राहुल के तन के खड़े हुए लन्द को देख के हल्का मुस्कुराती है
रमा-राहुल गुड मॉर्निंग बेटा 
राहुल- गुड मॉर्निंग मम्मा
रमा- रात को नींद कैसे आयी बेटा
राहुल- बहुत गहरी नींद आयी माँ मैं तो मूतने भी नही उठा
रमा- मेरे को ऐसे नींद सालो से नही आई थी बेटा मेने तो करवट भी नही ली।
राहुल-मा तू नंगी बहुत अच्छी लगती है देख मेरा लन्द कैसे खड़ा है
रमा-सुबह सुबह सब मर्दो का खड़ा होता है मेरे लाल चल अब उठ फ्रेश हो के कॉलेज के लिए रेडी हो मैं भी फ्रेश हो लेती हूं।
रमा बेड से उठने को होती है तभी राहुल उसका हाथ पकड़ लेता है 
राहुल- कहा जा रही हो माँ एक किस तो दे दो न
रमा- बेटा बहुत जोर से टॉयलेट आ रही है जाने दे ना चल तुझे किस कर दु तब जाऊंगी मूतने
राहुल रमा को जोरदार किस करता है रमा को जोर से पिसाब लगी है पर वो राहुल को कुछ देर तक किश करने देती है।
रमा- चल अब छोड़ तेरे मुह से बदबू आ रही है ब्रश कर ले और अब मुझे जाने दे
राहुल- ममा एक बार चुत को किस करने दो न 
रमा- बेटा अगर सुबह की पेहली मुत न होती तो तुझे चुत भी पिलाती और मुत भी अभी रिस्क नही लेना चाहती सुबह का मुत बहुत स्ट्रांग और स्मेल करता है। 
राहुल- बस 2 मिन की बात है 
रमा- चल कर ले कुत्ते लेकिन 2 मिन से ऊपर नही 
राहुल- थैंक्स माँ चल पैरों को खोल
राहुल अपनी माँ की चुत को चाटने लगता है खास तौर पे चुत के ऊपर वाले मुत के छेद को रमा को हल्का हल्का मजा आने लगता है और वो राहुल को 15 मिन तक चुत पीने देती है राहुल के मन मे बदमासी आ जाती है वो उसके मुत के छेद को जोर से चुसने लगता है 
रमा-अहह राहुल अब छोड़ दे बेटा मुझे कंट्रोल नही हो रहा बिस्तर पे ही मुत जाऊंगी मैं रोज रोज तेरा बेड नही धोना चाहती मांन जा न हरामी कुत्ते मादरचोद 
राहुल- माँ तेरे चुत में नशा है छोड़ा नही जा रहा 
रमा को बहुत जोर से प्रेशर बनता है 
रमा- राहुल मुझसे कॉन्ट्रल नही हो रहा मेरा मुत कभी भी छूट सकता है 
राहुल कस के मुह को चुत के मुत के दाने के ऊपर रख कर चूसता है और अचानक बहुत सारा मुत राहुल के मुह में आने लगता है जो टेस्ट में बहुत हार्ड और बदबूदार होता है राहुल थोड़ा सा पी के मुह हटा लेता है और रमा सारा पिशाब बिस्तर पे ही कर देती है।
Reply
02-01-2019, 02:08 PM,
#8
RE: Indian Sex Story अहसास जिंदगी का
रमा-कुत्ते कहा था न हार्ड और स्मेल मुत निकलता है पूरा बिस्तर खराब कर दिए पिले पिले मुत से तूने
राहुल- मा तुझे नहाना तो था ही फ़िर क्या है तुझे मजा तो आया न 
रमा-मजा तो बहुत आया लेकिन गंद ज्यादा मच गई।
राहुल- चल मा में फ्रेश हो लेता हूं तो भी फ्रेश हो ले और सुन आज सजना नही क्यों कि साम को लता आएगी मैं चाहता हु तू डिप्रेस दिखे।
रमा- वो सब तू मुझ पे छोड़ दे लेकिन अभी एक मेरा छोटा सा गंदा काम कर दे
राहुल- क्या मेरे बदमाश माँ
रमा-मैं नहाने तो जा ही रही हु और बिस्तर भी धुलेगा जरा तू भी अपनी मुत की धार मेरे मुह और पूरे बदन में मार दे मैं भी तेरे गर्म मुत को महसूस करना चाहती हु 
राहुल- वाकई मेरे जान तू मुझसे भी ज्यादा गंदी है
रमा-तूने मेरे चुत पी के मुझे गरम कर दिया है आ जल्दी से मेरे ऊपर मुत ले 
राहुल अपने लण्ड से मुत की धार रमा के मुह पे मारता है फिर उसके सारे बदन पे धार मरता है उसकी चुत में भी और उलटा कर के गाड़ में भी।
रमा-बहुत हार्ड यूरिन है तेरा पता नही क्यों एक गंदी से फिलिंग आ रही है मुझे 
राहुल- क्या मेरे मा
रमा- राहुल मेरे ऊपर आ के मेरे चुत मार न 
राहुल- मा तुजसे बदबू आ रही और पूरा बिस्तर महक रहा है 
रमा- राहुल प्लीज मान जा न
राहुल - चल तू भी गंदी में भी गंदा तुझे चोड ही देता हूं
राहुल रमा के ऊपर आ जाता है और रमा की चुत में लन्द डाल देता है,रमा उसे जोर से पकड़ लेती है और चूमने लग जाती है राहुल भी उसे चूमने लग जाता है ।रमा को चुमते चुमते उसके गीले महकते बदन से उत्तेजित हो के राहुल रगड़ रगड़ के अपनी माँ को चोदता है 
राहुल - माँ मुझे यकीन नही हो रहा हूं दोनों हमारे मुत से गीले बिस्तर पर भीगे हुए एक दूसरे को चुमते हुए चुदाई कर कर रहे ह। 
रमा- कर लेने दे राहुल आई लव यु चोड दे मुझे तू
राहुल - मा मेरा पानी छूट ने वाला है 
रमा-छोड़ दे मेरे चुत में ही झड़ दे बेटा
राहुल सारा पानी मा की चुत में छोड़ देता है फिर लण्ड निकाल लेता है। 
राहुल-अहह मा हम लोगो को अब नहाने की जरूरत है 
रमा- तू नहा ले और मैं ते बिस्तर साफ कर के नहा लेती हूं,कितना सारा पानी छोड़ता है तू पूरी चुत से टपक रहा है लगता है अपनी माँ को मा बना के रहेगा।
राहुल हँसते हुए बाथरूम चला जाता है और रमा सफाई में जुट जाती है।
राहुल कालेज को निकलता है अपनी क्लासेस लेता है क्लास में राहुल का मन नही लगता फिर भी शाम तक वक़्त तो काटना ही है। राहुल शाम को कॉलेज से लौट रहा होता है तो उसे पीछे लता की आवाज़ आती है 
लता- ओये जूनियर ज़रा रूकना।
राहुल - इस जूनियर को राहुल कहते है सीनियर जी
लता- ओह्ह में तुम्हारा नाम जानती हूं बस दिमाग से फिसल गया था तुम मुझे लता बुला सकते हो।
राहुल- थैंक्स लता जी तुम 5 बजे आ रही हो न मेरे घर 
लता- वादा किया है तो आना पड़ेगा लेकिन मुझे रास्ता पता नही है तो सोचा तुम्हारे साथ चालू ।
राहुल- आओ मेरे साथ चलो
लता- मैं रात भर सोई नही सोच रही थी कही कोई तुम्हारे कोई चाल तो नही अपनी माँ का बदला लेने की इसलिए मैं अपनी सहेली को बता के आयी हु की में तुम्हारे घर जा रही हु अगर मुझे कुछ भी हुआ तो तुम्हारे खेर नही।
राहुल- यार मुझे बदला भी लेना हो तो तुमसे नही तुम्हारे डैड से लेता और इन सब से बढ़कर मुझे अपनी माँ प्यारी है उसके सपनो को पूरा करना है तुम्हे या तुम्हारे डैड से बदला ले के जेल जाने का मेरा कोई मूड नही है 
लता- यार में तो बस कह रही थी मुझे लोगो पे भरोसा नही होता जल्दी 
राहुल- तुम क्राइम सीरीज देखना बन्द करो लोग इन्हें देख के अलर्ट कम क्राइम ज्यादा कर रहे है
लता- हा हा हा नाइस जोक
राहुल- मेरे पास कोई व्हीकल नही है तुम्हारे पास है क्या
लता- हॉ मेरे स्कूटी है तुम आगे चल के बस स्टैंड के पास मिलोमसी तुम्हे वही से पिकअप करती हूं।
राहुल- यहां से क्यों नही ओह्ह आई सी मेरे साथ नही दिखना चाहती न ओके मैं बस स्टैंड पर मिलता हु।
राहुल बस स्टैंड पे लता का वैट करता है और लता अपनी स्कूटी ले आ जाती है
लता-सब लड़को पे बाइक या कार है तुम कैसे रह गए
राहुल- मेरे माँ की ने बड़ी मुश्किल से लोन ले के मेरा एडमिशन करवाया है ,बाइक लाने के लिए में पार्ट टाइम ट्यूशन पढ़ाता था लेकिन जब से माँ ने हॉस्पिटल जाना बन्द किया है सारे सेव मनी खर्च हो गयी है।
लता- ओह्ह मेरे बात का बुरा मत मानना
राहुल- कोई बुरा नही माना अब आगे से लेफ्ट ले लो सामने ही मेरा घर है। 
राहुल घर के सामने लता से स्कूटी खड़ी करने को बोलता है राहुल घर की घंटी बजाता है। राहुल की माँ कुछ देर बाद दरवाजा खोलती है लता बहुत नर्वस होती है लेकिन राहुल की माँ को देख के परेशान हो जाती है आंखों के नीचे काले घेरे चेहरा बुझा हुआ पुराने कपडे राहुल की माँ की बहुत बुरी हालत थी।
रमा- आ गया बेटे तेरा ही वैट कर रही थी अरे अपनी किसी फ्रंड को लाया है क्या बडी सूंदर है 
राहुल- मा ये मेरे कालेज की सीनियर है लता 
रमा- अंदर आओ लता बेटा 
राहुल- मा ये डॉक्टर जी की बेटी है 
रमा शोक होने का दिखावा करती है और घर के अंदर चली जाती है 
लता- तुम्हारे मा ने अपना क्या हाल बना रखा है 
राहुल- सुनो मम्मी के कमरे में जा कर उन्हें समझाओ में भी चलता हूं तुम्हारे साथ
लता- आंटी जी मैं आपसे हाथ जोड़ के विनती करने आई हूं कि मेरे डेड को माफ कर दीजिये और उन्हें भूल जाइए मैं आपको मेरे परिवार का वास्ता देती हूं ऐसा कुछ भी न करे जिससे मेरे पिता को में एक बार फिर से खो दू। 
रमा- तुम्हारे पिता से मेने प्यार किया था बेटी मैं उनके बिना कैसे जी रही हु मैं जानती हूं मुझे जिस तकलीफ में वो छोड़ गए है ना जी पा रही हु न मर पा रही हु 
लता- मरने की बात न कीजिये आंटी आप राहुल के बारे में सोचिए उसके पढ़ाई और शादी का जिम्मा आप पे है उसे मत भूलिए मेरे बाप की गलती की सजा अपने बेटे और हमारे परिवार को मत दीजिये मैं आपके पैर पड़ती हु।
रमा- काश तुम्हारा बाप भी तुम्हारे जैसा होता बेटी मैं उसे कबका माफ कर देती लेकिन बेटा मेरी वजह से तेरे मा को जो तकलीफ पहुँची है और उसके लिए में तेरे से माफी मांगती हु। राहुल तू भी मुझे माफ़ कर दे मैं इतनी मस्तलबी हो गयी थी प्यार में की तेरे बारे में सोचना भूल गयी। तूने कितना दर्द झेला है मेरे वजह से आई एम सॉरी बेटा
राहुल रोते हुए- नही माँ बस तू मुझे छोड़ के मत जा मैं अकेला मर जाऊंगा मा एक तेरे सूरत देख के जीता हु तेरे खुशि के लिए मेने उस डॉक्टर को भी कुछ नही बोला।
Reply
02-01-2019, 02:08 PM,
#9
RE: Indian Sex Story अहसास जिंदगी का
राहुल और रमा दोनों आशू बहाते है ये देख के लता की आंखों में भी आंसू आ जाते है।
लता- मैं चलती हु आंटी जी मेरा काम हो गया यहां पे 
रमा- ऐसे नही बेटी तुम्हारे लिए कुछ है मेरे पास
लता- ये क्या है आंटी जी
रमा- ये तुम्हारे पिता जी की कुछ निशानिया कुछ हमारे साथ मे तस्वीरे है इन्हें तुम नस्ट कर देना। 
लता- थैंक यू आंटी जी आप चाहती तो मेरे पिता को ब्लैकमेल कर सकती थी
रमा- सच्चा प्यार ब्लैकमेल नही करता बेटी तुम्हारे पिता को मैने आज़ाद किया अब में अपने बेटे के लिए जीऊँगी।
लता- आपका बहूत शुक्रिया अब मूझे आज्ञा दीजिये 
राहुल- आओ में तुम्हे स्कूटी तक छोड़ देता हूं
लता-राहुल तुम और तुम्हारे माँ वैसे बिल्कुल नही निकले जैसा मैंने सोचा था। अब में चलती हु बाई राहुल।
लता स्कूटी ले के निकल जाती है।
राहुल- अरे वाह मा तुमने तो कमाल कर दिया मुझे सरप्राइज कर दिया 
रमा-बेटा मैं तो सुबह से तैयार थी अपना जादू चलाने को
राहुल-लेकिन तुमने उसे सारे सबूत क्यों दे दिए हम उस डॉक्टर को उंगलियों पर नाचा देते इससे
रमा- बेटा मुझे उसे कभी ब्लैकमेल नही करती में इतनी गिरी हुईं नही हु ये तो में लता का दिल जितने के लिये कर रही थी 
राहुल- लेकिन वो कल पलट गई तो हम ये सबूत दिख के उससे कुछ भी करवा लेते
रमा-बेटा जबरदस्ती में वो मजा नही जो दिल जीतने में है मैं तुझे कभी किसी भी लडक़ी के साथ ऐसा न करने को बोलूंगी। हार के जीतने वाले को बाज़ीगर कहते है बेटा वो तेरे पास जरूर आएगी।
राहुल- आई डोंट रियली केअर अबाउट हर मैं तुमसे प्यार करता हु मेरे मा 
राहुल रमा को जोरदार किस करता है दोनों एक दूसरे में लीन हो जाते है।

राहुल और रमा एक दूसरे को पागलो की तरह चूमने लगते है कमरे में अन्दर आ के राहुल रमा की साड़ी उतार देता है। 
राहुल-आज मेरा दिल बहुत खुश है तेरे वजह से में लता जैसे लड़की को अपने घर तक ले आया।
रमा- खुश तो में भी बहुत हु मेरे लाल ने मेरी लाज रख ली 
राहुल- माँ ये ब्लाउज़ और पेटीकोट उतार न मुझे तुझे नंगी देखने का मन कर रहा है 
रमा-अच्छा मेरे गंदे बच्चे मुझे नंगा देखना है 
राहुल- हा मा पूरी नंगी हो न मुझे कुछ करना है तेरे साथ 
रमा- क्या करेगा
राहुल- तेरे बदन से खेलूंगा तेरे हर अंग से छेड़ छाड़ करूँगा
रमा अपने सारे कपड़े उतार के राहुल के सामने नंगी हो जाती है राहुल अपने सारे कपड़े उतार देता है दोनों नंगे एक दूसरे को घूरते है राहुल रमा की गीली चुत को देखता है रमा राहुल के तने हुए लन्द को देखती है
राहुल- राहुल मेरे गले मे अभी भी दर्द है तेरे लण्ड को मुह में नही ले पाऊंगी बेटा मेरे चुत भी फूल गयी है तेरे लंड से अब तू चोदेगा तो सूज जाएगी अब बता तू क्या कर सकता है अगर गांड मारनी है तो मर ले लेकिन मुझे पेनकिलर लेने पड़ेंगें। मेरे चुत गीली है और मेरे होंठ प्यासे कैसे बुझायेगा मेरे प्यास ।
राहुल- मा मेरे तेरे चुत और गांड से खेलूंगा लेकिन लण्ड से नही रोज रोज चुदाई से मेरे लण्ड खुद रगड़ गया है इसमें रेडनेस आ गयी है बस तेरे गदराए बदन को देख के गंदी हरकते करने का मन करता है मेरे जान।
रमा- अब क्या करेगा मेरे साथ मेरे कुत्ते।
राहुल- मा में रुस्सियन पोर्न देख रहा था वो लोग गांड में दूध डाल के चुदाई करते है कप केक्स भी डाल देते है मुझे तेरे साथ वैसा करना है 
रमा- अरे पागल हो गया है क्या तुझे पता है ना वो लोग प्रोफेशनल होते है मैं कैसे कर सकती हूं उल्टी करवा के मुह सुजवा दिया अब मेरे गांड बक्श दे 
राहुल- मम्मी प्लीज मुझे करना है मैं तेरे चुत को चूस लूंगा सारा गीलापन निकल जायेगा तेरा तेरे होठो को अपना सफेद पानी पिलाऊंगा।
रमा- अरे राहुल तू करेगा कैसे घर मे दूध कम है और केवल पेस्ट्री रखी है
राहुल-कोई नही इसके बाद सुबह में दूध ले आऊंगा और पेस्ट्री तो अब तेरे गांड में जाएगी।
रमा- नही मानेगा न मेरे कुत्ते जा ले आ दूध का बर्तन और फ्रिज से पेस्ट्री भी निकाल लाना।
राहुल-आई लव यू मम्मी अभी लाता हु 
रमा- सब लेके बाथरूम में आ जा 
राहुल- मा दूध तो कम है इतने से क्या होगा 
रमा- अगर तू ये दूध पियेगा तो बढ़ा दु इसे 
राहुल-कैसे बढ़ाएगी पानी मिला के 
रमा- हा अपनी मुत मिला के 
राहुल- अहह तो मुत न इस बर्तन पे 
रमा-जब से लता आयी थी तब से रोक के रखा था मूझे नही पता था तेरे काम आ जायेगा।
दूध के बर्तन में रमा शीईईई करते हुए मुत देती है राहुल अपने लण्ड को रगड़ रगड़ के उसे मुत्ते हुए देख के आनंद ले रहा था। राहुल एक छोटी सी पिचकारी ले के आता है।
राहुल-मा अब उल्टा लेट जा फर्श पे तेरे गांड में ये छोटी से पिचकारी जाएगी
रमा- पहले मेरे चुत को चाट के साफ कर और गांड को भी साफ कर जीभ से 
राहुल मा की मुत से गीली चुत को चूस लेता है और फिर थोड़ा नीचे जा के मा की गांड में मुह लगा देता है । रमा इसको खूब एन्जॉय करती है।
रमा- राहुल तूझे में सच मे एन्जॉय करने लगी हु अहह जिस तरह से तूने मुझे इतने कम समय मे अपना दीवाना बना दिया है में तेरे बिना जी नही पाऊंगी।
राहुल- दीवाना तो में तेरा हु मेरे जान 
रमा- चल तू अपना प्रयोग कर ले मैं भी देखती हूं मुझमे कितना दम है 
राहुल छोटी से पिचकारी को दूध के बर्तन मे डाल के पूरा दूध खिंच के अपनी माँ की गाड़ में धीरे से घुसेड़ देता है।
राहुल- मा जब लगे कि इससे आगे नही ले सकती तो बता देना 
रमा- अहह तू बस डालते रह 
राहुल पिचकारी की धार अंडर छोड़ देता है 
रमा- अहह ये तो मेरे पेट तक पहुच रहा है, बेटा इसे धीरे निकलना 
राहुल जैसे ही निकलता है दूध की धार मा की गांड से निकल जाती है राहुक तुरत मुह लगा के उसे पी जाता है ।
राहुल- मा तेरे गांड की खुश्बू से ये दूध मजेदार हो गया है 
रमा- अच्छा अबकी बार और अंदर डाल ना मेरे राजा 
राहुल पिचकारी पूरी घुसेड़ देता है और कस के धार मारता है 
रमा- अअहह मेरे गांड उफ्फ्फ 
राहुल-पिचकारी निकाल दु मा
रमा- निकाल दे कुत्ते अहह
राहुल बर्तन को मा की गांड के पास रखता है पिचकारी निकलते ही सारा ढूध बर्तन में भर जाता है।
रमा- राहुल बेटा ये भर क्यों लिया 
राहुल-तेरे पे उड़ेलना जो है मेरे प्यारी मा
राहुल सारा दूध मा पर उड़ेल देता है
रमा- अब क्या करना है तुझे मेरे लाल
राहुल- अभी पेस्ट्री बाकी है माँ
Reply
02-01-2019, 02:08 PM,
#10
RE: Indian Sex Story अहसास जिंदगी का
रमा-ओह्ह बहुत बदमाश है तू क्यों मेरे शरीर की सीमा से खेल रहा है।
राहुल- माँ गांड खोल न आज तेरे गांड से निकली हुई पेस्ट्री खाउंगा। 
रमा- डाल दे रे मेरे कुत्ते देखती हूं कर पाती हूँ कि नही 
राहुल पहली पेस्ट्री डालता है धीरे धीरे पेस्ट्री को मचोड़ के मा की गांड में अंडर तक पूरा घुसेड़ देता है।
रमा- अब बस कर बेटा इतना बहुत है 
राहुल- माँ अभी दो बाकी है और मुझे सब एक साथ चाहिए तेर गांड में
रमा- तू क्यों आग से खेल रहा है बेटा बहुत अंदर तक पेस्ट्री चली जायेगी
राहुल दूसरी पेस्ट्री भी घुसेड़ देता है दबा के, पेस्ट्री अंडर गांड में दब के क्रीम जैसे हो जाती है
राहुल- माँ एक और बस 
रमा- पता है कितना प्रेशर है गांड पर 
राहुल इतने में तीसरा भी घुसेड़ देता है 
रमा- अहह मार गयी पुरी गांड भर दी तूने मादरचोद
राहुल चुप चाप अपना लन्द भी गांड कब मुह पे लगा देता है।
रमा- राहुल तू पागल हो गया है मेरे से कंट्रोल नही हो रहा है कभी भी सारे पेस्ट्री बाहर आ जाएगी और तू लन्द भी डाल रहा है 
राहुल तुरंत लन्द घुसेड़ देता है गांड में और जोर जोर से गांड मारने लगता है 
रमा- अहह कुत्ते आज तूने मेरे गांड भर के मार ली
राहुल- माँ अंदर कचूमर तो बना दु पेस्ट्री का
रमा- क्यों मेरे गांड में डिश तैयार कर रहा है अहह लन्द हटा मुझे रोका नही जा रहा
राहुल लन्ड निकाल लेता है रमा तुरंत बर्तन के ऊपर आ के बैठ जाती है उसकी गांड से सारे पेस्ट्री का कचूमर निकल जाता है और वो साथ मे मूतने लगती है 
राहुल-अहह मा क्या डिश बना दी तूने अब मेरे लन्द में जो कचूमर लगा है इसे मुह में ले के टेस्ट कर 
रमा-टेस्ट कर लुंगी पर ब्लो जोव नही दे सकती गले मे दर्द है ना 
राहुल मा के मुह में डाल देता है रमा लन्ड चाट लेती है।
रमा-राहुल अब इस डिश का क्या करे 
राहुल बर्तन से थोड़ा कचूमर निकाल के टेस्ट करता है 
राहुल- क्या डिश बनाई है माँ बस तेरे गांड में स्ट्रेबेरी भी डालनी थी मजा आ जाता ।
रमा- जरा मेरे गाड़ को चाट के साफ कर दे ना बेटा
राहुल जोर जोर से गाड़ चुसने लगता है जीभ अंडर डाल देता है। गांड में अब भी क्रीम लगी होतीहै
राहुल- मा अभी और पेस्ट्री बाकी है अंडर निकाल दे ना बाहर 
रमा- चुप कर बदमाश में जा रही हु फ्रेश होने अभी जाने कितना निकलेगा कचूमर अन्दर से 
राहुल- ठीक है माँ तू जा फ्रेश हो ले पहले मुझे तेरे गांड में पानी छोड़ने दे
रमा- जल्दी डाल दे राहुल 
राहुल अपनी माँ की गांड बहुत जोर जोर से मारने लगता है।
राहुल- अहह मा में पानी छोड़ने वाला हु 
राहुल अपना पानी छोड़ने लगता है और लन्द गांड से लन्द निकाल लेता है।
रमा दौड़ते हुए कोमोड पे बैठ जाती है 
रमा- कुत्ते तेरे वजह से गांड भी फूल जाएगी मेरे जा तु अब मुझे फ्रेश होने दे और नहा ले।
राहुल- ओके मेरे प्यारी माँ।
राहुल नहाने चला जाता है ।

अगले दिन कॉलेज में राहुल पार्क के बेंच पर बैठा था। तभी सामने से लता स्कूटी से आती हुई नजर आती है। राहुल उसको हल्की सी मुस्कान से देखता है लता उसके सामने ही स्कूटी रोक लेती है
राहुल- हेल्लो सीनियर
लता-ओह्ह प्लीज काल मी लता।
राहुल- अच्छा कैसे हो लता
लता- मैं ठीक हु राहुल तुमसे थैंक्स बोलना चाहती हूँ
राहुल-थैंक्स तो मुझे बोलना चाहिए तुम्हारे वजह से मुझे मेरे माँ मिल गयी वो नार्मल हो गयी है जल्दी ही हॉस्पिटल जाके वापिस जॉइन करने वाली है।
लता- नही राहुल तुम अपनी मां से बहुत प्यार करते हो इसलिए ऐसा बोल रहे हो तुमने सिर्फ अपनी माँ को ही नही मेरे डैड को भी फसने से बचाया है इसलिए उसके लिए में थैंक्स बोलती हु में तुमसे।
राहुल- चलो मुझे मेरे मा तुम्हे तुम्हारे डैड मिल गए और क्या चाहिये।
लता- मेने तुम जैसे लड़का नही देखा इतना सॉफ्ट हार्ट है तुम्हारा 
राहुल-अच्छे इंसानों को सब अच्छे ही लगते है लता जी
लता- काश में भी इमोशनली अपने डेड से इतना जुड़ी होती जितना तुम अपनी माँ से हो ।
राहुल- तुम अपने डैड से बहूत प्यार करती हो तुम्हारे डैड बहुत लकी है जिन्हें तुम जैसे बेटी मिली है।
लता- प्यार को समझने वाले इंसान बहुत कम होते है राहुल तुम अपनी माँ को समझते हो मेरे डैड मुझे समझते नही।
लता की आंखों में नमी सी आती है।
राहुल-शायद तुम्हारे दिल मे कोई तकलीफ है 
लता- नही कुछ नही यार में सेंटी हो जाती हु कभी कभी सुनो मेरा दोस्त जिसने तुम्हे स्लैप किया था तुमसे सॉरी बोलना चाहता था
राहुल- कोई जरूरत नही है उसने सारी फील किया इतना बहुत है
लता- अच्छा ठीक है अब में चलती हु 
राहुल- ओके लता take care।
लता स्कूटी चला के जाने लगती है तभी 
राहुल- लता एक मिनट
लता- हा बोलो राहुल 
राहुल- पता है तुम बोल रही थी कि में प्यार को समझता हूं ऐसा बहुत कुछ है जो में समझता हूं पर किसी से शेयर नही कर नही पाता क्या तुम सुनना चाहोगी वो बातें
लता-पता नही राहुल तुम और में ऐसे सिचुएशन में है कि दोस्त भी नही रह सकते। फिर यू मिलना अजीब सा है 
राहुल- मुझे आज तक प्यार को समझने वाला इंसान किसी ने नही कहा और तुम्हारे डैड के प्यार को ले के तुम्हारे आँशु। मुझे लगता है हमे एक दूसरे का दर्द समझना चाहिए।
लता- ठीक है राहुल लेकिन कॉलेज के बाहर मिलेंगे जब क्लासेज ओवर हो जाती है।
राहुल-थैंक्स लता।
लता- अब में चलती हु।
लता स्कूटी ले के चली जाती है राहुल स्माइल देते हुए उसको जाते देखता है।

राहुल शाम को पार्क में बैठा हुआ लता का वैट कर रहा होता है पीछे से लता आती है और पीछे से राहुल को देख रही होती है।
लता-ओये जूनियर किसका वैट हो रहा है 
राहुल- किसी नेक दिल सीनियर का 
लता- क्या यार तुम मुझे ऐवे ही चढ़ा रहे हो कौन सा बहुत महान काम मार दिया मेने 
राहुल- मेरे दिल से पूछो तुमने क्या किया है 
लता- अच्छा चलो अपने दिल की बात बता दो 
राहुल- लता मेने अपनी लाइफ में बहुत से लडकिया देखी है पर तुम जैसे लड़की नही देखी
लता- क्यों मुझ में चांद तारे लगे है क्या 
राहुल- हा हा हा इंसान चांद तारो से ही खास होता है क्या 
लता- राहुल तुम क्या चाहते हो मुझसे 
राहुल- में खुद नही जानता यार बस तुम से बात कर के अच्छा लगता है 
लता- अच्छा तो मुझे भी लगता है राहुल पर क्या करे ये सब गलत है तुम्हारे माँ और मेरे डैड के अवैध संबंध थे। 
राहुल-अच्छा मैं मानता हूं थे उनके संबंध लेकिन क्या में उस इंसान से बात भी नही कर सकता जो मेरे दिल को समझता है लता मुझे नही मालूम मुझे क्या हुआ है बस तुम्हे देख के एक अजीब सी खुशि होती है। मेने किसी लड़की को अपने डैड के लिए इतना सब करते हुए नही देखा जो अपने डैड के लिए इतना कर सकती है वो अपने प्यार के लिए कितना करेगी 
लता- राहुल सच मे मुझे भी यकीन नही होता कि तुम जैसे बेटे भी होते है मर्द कितने कठोर दिल होते है मेने देखे है तुम अपनी माँ की फीलिंग समझते हो मुझे पता है तुमसे जो प्यार करेगी वो खुशनसीब होगी
राहुल- लता में तुमसे अट्रेक्ट हु पता नही क्यों मुझे तुम्हारा साथ अच्छा लगता है 
लता- राहुल क्यों मेरे धड़कने बढ़ा रहे हो ये नही हो सकता
राहुल- लता अपने माँ बाप का पाप हम क्यों उठाते फिरे 
लता- राहुल मुझे कुछ वक्त दोगे 
राहुल- मेरे सारे जिंदगी ले लो लता वक़्त क्या चीज है बस मैं एक बात कहना चाहता हु
लता- क्या राहुल
राहुल- में तुमसे प्यार करता हु और तुम ना भी कर दो मुझे फर्क नही पड़ता तुम पास न भी रहो तुमको देख के जी लूंगा
लता- राहुल तुम्हारे प्यार का जवाब में तुम्हे कुछ वक्त बाद दूंगी
राहुल- ठीक है लता अब ये बताओ तुम इतना atitude में क्यों रहती हो सारे लड़के तुमसे डरते क्यों है 
लता- हा हा हा राहुल मेरे को मर्दो से कठोर behave करना अच्छा लगता है 
राहुल- तुम्हारे डैड की वजह से 
लता- शायद राहुल वो बिल्कुल मेरे माँ से प्यार नही करते थे । वैसे सच मे तुम मुझे समझने लगे हो 
राहुल- क्या उन्होंने तुमसे प्यार नही किया 
लता- राहुल मेरे डैड ने मुझसे कभी ऐसा प्यार नही किया जिसकी एक बेटी को उम्मीद होती है उस दिन तुम्हारे मा का प्यार देख के मुझे रोना आ गया
राहुल- फिर तुम अपने डैड से इतना प्यार क्यों करती हो 
लता- में अपनी माँ के लिए अपने डैड को बचाई राहुल तुम्हे पता है अगर तुम मुझे ब्लैकमेल भी करते तो में अपने डैड को बचाने के लिए वो सब करती जो मुझसे हो सकता था 
राहुल- लता क्या तुम्हें में ऐसा लगता हूँ 
लता- नही राहुल न तुम ऐसे हो न तुम्हारे मा मेरे डैड ने ही तुम्हारे मा को यूज़ किया होगा वो बहुत सेक्सुअल है 
राहुल चोक जाता है लता से ऐसे बात की उम्मीद नही थी उसे।
राहुल- लता आई एम सॉरी शायद मेरे बातों से तुम uncomfertable हो गयी हो 
लता- राहुल मेने पहली बार अपने दिल की बात कही है 
राहुल- तुम मुझ से कुछ भी शेयर कर सकती हो 
लता- मुझे लेट हो रहा है राहुल अब चलती हु बाए 
राहुल लता का हाथ पकड़ लेता है 
राहुल- ये लो पर्ची इसमें मेरे नंबर्स है अगर मन हो तो बात कर लेना 
लता- मेरा हाथ पकोड़ोगे ऐसे राहुल कभी मुझे छोड़ोगे तो नही न 
राहुल- मुझे तुम्हारे जवाब का इन्तेजार रहेगा बाए डिअर 
लता मुस्कुराते हुए चली जाती है राहुल सोचते हुए की लता को ब्लैकमेल करने से उसकी चुत उसे मिल जाती पर मा उसके दिल को तोड़ना चाहती है इसलिए मुझसे प्यार करने को कह रही थी । राहुल ये भी सोच रहा था कि जब बाप को बेटी से इतना प्यार नही तो उसकी सजा बेटी को क्यों दे। खेर राहुल पर मा की चुत का मजा इन बातों पे भारी पड़ रहा था।

राहुल-मा आज तेरे लिए अच्छी खबर लाया हूं।
रमा- आ गया मेरे लाल क्या अछि खबर है बेटा
राहुल- लता मुझसे प्यार करती है लेकिन कह नही पा रही थोड़ा वक्त मांगा है लेकिन जिस तरीके से देख रही थी मुझे पता है कि वो दिल से मेरे हो चुकी है।
रमा- ये तूने बहुत अच्छी खबर दी है बेटे बता मा से क्या चाहिए तुझे।
राहुल- माँ एक बार फिर से लण्ड चूस न
रमा- मेरा गला ठीक हो गया है तेरा पूरा लन्ड चूस डालूंगी लेकिन मेरे गले को छोड़ दियो बेटा
राहुल पेंट उतरते हुए- ओके मेरे प्यारी मा अब चल अपना ये सूट उतार मुझे तुझे नंगी देखना है तेरे झांटो को अपने दांतों से खीचना है।
रमा- वाह रे मेरे लाल थोड़ा सब्र कर आज मेरे पीरियड्स आ रहे है में सेक्स नही कर सकती और गांड की तूने हालात खराब कर रखी है अब तक पेस्ट्री का क्रीम निकल रहा है।
राहुल- चल ठीक है माँ तू लन्ड ही चूस ले।
रमा-आ तेरे इस टाइट लण्ड को पिऊ
रमा राहुल का लण्ड पीने लगती है राहुल अपनी माँ के मुँह को एन्जॉय करने लगता है रमा राहुल के लन्ड को अपने मुह से पूरा का पूरा ऊपर नीचे कर रही थी तभी राहुल का मोबाइल बजने लगता है।
राहुल- ओह्ह किस का फ़ोन आ गया अरे ये तोह कोई नया नंबर है शायद लता का हो
रमा- बेटा उठा ले और बात कर 
राहुल- हेलो कोन है 
लता- राहुल में हु लता
राहुल- लता में तुम्हें ही एक्सपेक्ट कर रहा था 
लता- राहुल मेंने तुम्हे जवाब देने के लिए कॉल की है 
राहुल- हा बोलो न क्या जवाब है 
लता- आई लव यू राहुल 
राहुल-आई लव यू टू लता
रमा ये बात सुन के बहुत खुश हो जाती है और राहुल का लन्ड बहुत जोर जोर से चुसने लगती है 
राहुल- लता आज तुमने मेरे दिल उफ्फ्फ अहह खुश कर दिया
लता- राहुल ये कैसे आवाज़े निकाल रहे हो
राहुल-कुछ नही डिअर वो पैदल चला था न इसलिए थक गया हूं 
लता- ओह्ह मेरा राहुल तुम को अब से में ड्राप कर दूंगी
राहुल- थैंक्स लता अहह माँ अहह
लता- क्या मा कर रहे हो क्या कर रहे हो तुम 
राहुल- वो कुकर से गैस निकलने वाली है माँ को बुला रहा था अहह
लता- मुझे तो कोई सिटी नही सुनाई दे रही तुम रेस्ट करो राहुल में रात ने बात करती हूं 
राहुल- ओके डिअर बाई लव यू
लता- लव यू टू बेबी।
लता फोन काट देती है रमा राहुल का लन्ड पूरा झड़ देती है राहुल का सारा पानी अपने मुह में भर लेते है
राहुल- अहह मा तुम भी कितनी शैतान हो उसको शक हो जाता तो 
रमा राहुल के लिप्स पे किस करने लगती है कुछ देर तक किस करने के बाद 
रमा-राहुल में खुशि के मारे खुद को रोक न सकी आई लव यू बेटा तूने मेरा काम कर ही दिया अब इसको जल्दी से अपनी रंडी बना ले।
राहुल- बिल्कुल मेरे जान आई लव यू 2
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
Thumbs Up Sex Hindi Kahani गहरी चाल sexstories 89 68,603 04-15-2019, 09:31 PM
Last Post: girdhart
Lightbulb Bahu Ki Chudai बड़े घर की बहू sexstories 166 217,606 04-15-2019, 01:04 AM
Last Post: me2work4u
Thumbs Up Hindi Porn Story जवान रात की मदहोशियाँ sexstories 26 19,438 04-13-2019, 11:48 AM
Last Post: sexstories
  mastram kahani प्यार - ( गम या खुशी ) sexstories 58 46,260 04-12-2019, 10:24 PM
Last Post: Munna Dixit
Star Desi Sex Kahani गदरायी मदमस्त जवानियाँ sexstories 47 25,979 04-12-2019, 11:45 AM
Last Post: sexstories
Exclamation Real Sex Story नौकरी के रंग माँ बेटी के संग sexstories 41 22,289 04-12-2019, 11:33 AM
Last Post: sexstories
Lightbulb bahan sex kahani दो भाई दो बहन sexstories 67 25,255 04-10-2019, 03:27 PM
Last Post: sexstories
Lightbulb Hindi Sex Kahaniya छोटी सी जान चूतो का तूफान sexstories 130 109,199 04-08-2019, 11:43 AM
Last Post: sexstories
Lightbulb mastram kahani राधा का राज sexstories 32 27,317 04-07-2019, 11:31 AM
Last Post: sexstories
  Kamukta Story कामुक कलियों की प्यास sexstories 44 27,548 04-07-2019, 11:23 AM
Last Post: sexstories

Forum Jump:


Users browsing this thread: 1 Guest(s)