Thread Rating:
  • 0 Vote(s) - 0 Average
  • 1
  • 2
  • 3
  • 4
  • 5
Desi Kahani ग्रेट गोल्डन जिम
11-20-2017, 10:58 AM,
#51
RE: Desi Kahani ग्रेट गोल्डन जिम
हम दोनो गहरी साँस ले रहे थे. मैं ने उस से पूछा डिड यू एंजाय क्रिसटीना तो उसने मुझे किस करते हुए कहा के आइ नेवेर फेल्ट दिस फीलिंग बिफोर. यू सीम्स टू बी पर्फेक्ट आंड चॅंपियन इन ओपनिंग दा सील्ज़ और हम दोनो हस्ने लगे. इतनी देर मे सोनी और आनी दोनो भी झाड़ चुकी थी. क्रिसटीना ने करीब खड़ी प्रिया की चूत मे उंगली डाल दी और उसकी चूत को उंगली से चोदने लगी. प्रिया भी गर्म हो चुकी थी और एक मिनिट के अंदर ही झाड़ गई. अब हम सब ही झाड़ चुके थे और सब के चेहरो पे सॅटिस्फॅक्षन दिखाई दे रहा था. 
सारी रात हमने ग्रूप सेक्स किया बोहोत ही मज़ा आया. क्रिसटीना हमारे बिहेवियर से इतनी इंप्रेस हो गई के उसने इंडिया आने का वादा किया है. देखते है कब आती है. दूसरी सुबह तक मैं ने क्रिसटीना को 2 टाइम और चोदा और फिर उसकी गंद मारने के बाद ही उसको उसके पेरेंट्स के पास जाने दिया. वो हम सब को किस करती हुई हम से जुदा हो के अपने होटेल चली गई. जाते समय उसके चेहरे पे सॅटिस्फॅक्षन की चमक थी पर वो हम से जुदा होने के गम भी उदास भी थी. 
हम चारो इंडिया वापस आ गये. हम सब बोहोत ही खुश थे. कॉलेज को भी क्रिस्मस और न्यू एअर के छुट्टियाँ थी तो यह छुट्टियाँ हमारे सब के लिए एक चान्स बन के आई. इंडिया जिस शाम पोहोचे, उनको रिसीव करने के लिए दीपा और रूपा दोनो आए थे. हमे खुश देख के वो भी बोहोत ही खुश हुए और जाते जाते दीपा ने मेरे हाथ को पकड़ के दबाया जिसे और कोई नही देख सका और बोला के थॅंक्स राज फॉर एवेरी थिंग. तो मैं बोला के हनी इस मे थॅंक्स की क्या बात है तो बोली के हम तो चाहते है के आनी और सोनी हमेशा खुश रहे तो मैं बोला के उसकी आप चिंता मत कीजिए मैं उन दोनो को हमेशा खुश रखूँगा और हंसते हुए बोला के शादी के बाद भी मैं उनकी सर्विसिंग करूँगा तो दीपा धीमे लहजे मे बोली के बड़े शैतान हो तुम और फिर मेरा हाथ छोड़ दिया फिर भी किसी ने नोट नही किया. 
प्रिया ने रवि को पहले ही बता दिया था के वो प्रेग्नेंट है और वो बे इंतेहा खुश हो गया. उसको क्या पता के प्रिया को छोड़ने के दूसरे ही दिन तो उसके मेनास स्टार्ट हो गये थे और यह प्रेग्नेन्सी उसकी तरफ से नही बलके राज की मेहेरबानी से ठहरी है. प्रिया को मैं बोहोत ही एहतियात करवा रहा था. उसको जब चोदना होता तो बोहोत ही धीरे से या सिर्फ़ 69 मे ही करते और झाड़ जाते. 


मैं नही चाहता था के उसकी प्रेग्नेन्सी को कुछ हो. अब मैं मोस्ट्ली प्रिया के घर ही सो जाता था और कभी अपने घर को भी चला जाता था. प्रिया कभी अपने घर मे रहती और छुट्टी के दिन मेरे घर मे रहती. मैं दीपा और रूपा को बराबर चोद रहा था वो दोनो भी मेरी चुदाई से बोहोत ही खुश थी. दिन एसे ही गुज़रते रहे. 
हम को युरोप के टूर से वापस आए हुए 2 वीक्स हुए थे. आनी और सोनी भी जब मौका मिलता चुदवा जाती थी. 
एक शाम मैं अपने जिम मे बैठा था के दीपा का फोन आया पूछा के मैं क्या कर रहा हू, फ्री हू क्या तो मैं बोला के दीपा डार्लिंग मैं कुछ भी कर रहा हू आइ आम ऑल युवर्ज़. मैं तुम्हारे लिए ज़िंदगी भर फ्री हू वॉटेवर यू से ईज़ आन ऑर्डर टू मी. वो हस्ने लगी और बोली के ठीक है मैं और रूपा आ रहे है. मैं बोला मोस्ट वेलकम स्वीटहार्ट्स. मैं समझा के वो यही आ के चुडवाएँगी. आज इत्तेफ़ाक से कोई मेंबर भी नही था तो मैने अपनी मसाजर लड़कियों को छुट्टी दे दी और वो सब चले गये. मैं अकेला दीपा और रूपा का वेट करने लग. प्रिया को फोन कर के बता दिया था के दीपा और रूपा आ रही ही पता नही क्या प्रोग्राम बनता है, तुम खाना खा के सो जाना मेरा वेट नही करना. मैं जब फ्री हुआ आ जाउन्गा. तो उसने ठीक है कहा और फोन रख दिया. 
शाम को 6 ब्जे के आस पास दीपा और रूपा मेरे पास ऊपेर आ गये. दोनो ने एक बार फिर से उनकी लड़कियो को एंटरटेन करने का शुक्रिया अदा किया और बोला का चलो राज हमारे साथ. मैं बोला के 
मोस्ट वेलकम मेडम आइ आम एवर रेडी फॉर यू. हम तीनो नीचे उतरे तो देखा के एक नयी डार्क मरून कलर की चमकती लेक्सस जीप खड़ी है. दीपा ने मुझे चाबी दी और बोली के चलो ड्राइव करो. यह पहला मोका था के मैं लेक्सस जीप चला रहा था. बहुत ही शानदार जीप थी. मैं बोला के कंग्रॅजुलेशन्स बोहोत ही बढ़िया जीप है यह तो. शानदार लेदर इंटीरियर. कब खरीदी तो रूपा बोली के आज ही शोरुम से आई है तो तुम्हारे पास ले के आ गये. मैं ने मीटर की तरफ देखा तो उस्मै सिर्फ़ 15 किमी दिखा रहा था. मैं समझ गया के हा यह आज ही शोरुम से निकली है. रूपा के पूछा कैसी लगी तुमको ये जीप तो मैं बोला के वाह क्या बात है इस जीप की इस से शानदार जीप मैं ने कभी चलाई ही नही तो वो दोनो हस्ने लगे. वो दोनो ने मुझे रास्ते का डाइरेक्षन दिया के कैसे जाना है. जीप तकरीबन आधे घंटे तक चलती रही फिर शहेर से थोड़ी ही दूर बाहर निकले थे के एक बोहोत ही बाद आलीशान बंगलो के सामने जीप को रोकने के लिए बोला और रूपा नीचे उतर के गेट खोला और मैं जीप को अंदर ले के वेट किया तो रूपा वापस गेट लॉक कर के जीप मे आ के बैठ गई. मैं ने जीप चला दी. 
क्रमशः........ 
Reply
11-20-2017, 10:59 AM,
#52
RE: Desi Kahani ग्रेट गोल्डन जिम
गतान्क से आगे.... 
हम अंदर आ गये. इतना आलीशान और शानदार बंगलो. मेरे मूह से तो वाउ यह तो शानदार है यार कब खरीदा तो बोली के बॅस अभी अभी बन के रेडी हुआ है. इतने बड़े घर को घूम के देखा. हर कमरा किसी दुल्हन की तरह से सज़ा हुआ था. फुल्ली फर्निश्ड. घर की सारी फेसिलिटीस मौजूद थी वाहा पर. बेडरूम और हॉल ड्रॉयिंग रूम, सिट्टिंग रूम वाघहैरा मे सब सोफा सेट्स, बेडरूम्स मे किंग साइज़ बेड्स पड़े हुए थे और इतने बड़े थे के इस बेड पे कम से कम 5 लोग बोहोत आसानी से सो सकते थे और हर बेड पे फर्स्ट क्लास बेडशीट्स बिछी हुई थी और उनकी पाएंटी पे स्पॅनिश मोरा गोल्ड के नरम ब्लॅंकेट्स बोहोत सलीके से फोल्ड कर के रखे हुए थे. एलसीडी स्क्रीन वाले बड़े बड़े वॉल माउंटेड टVस रखे हुए थे. फर्स्ट क्लास कलर स्कीम यूज़ की गई थी. बाथरूम और शवर भी नयी डिज़ाइन और नयी फिटिंग्स के लगे हुए थे और ईक दम से हाइ क़ुलिटी के फिटिंग्स इस्तेमाल किए गये थे. बेडरूम्स 
और दूसरे रूम्स, हॉल वाघहैरा मे कलर्फुल ड्रेप्स लगे हुए थे. सेंट्रल अरकोंडीटिओन लगा हुआ था. ऑन दा होल यह एक बोहोत ही शानदार बंगलो था जिसे मैं देखते का देखता ही रह गया. ऐसा लगता था जैसे यह बंगलो किसी रहने वाले का इंतेज़ार कर रहा है. फिर जब मैने बाल्कनी से बाहर देखा तो बंगलो के पीछे वाले पोर्षन मे एक अछा ख़ासा बड़ा स्विम्मिंग पूल भी था. मैं देख के सोचने लगा के बड़े लोगो की बातें ही बड़ी हो ती है. मैं तो कभी ऐसे शानदार बंगलो को खरीदने का सपना भी नही देख सकता था. लगता था के किसी मशहूर इंटीरियर डिज़ाइनर ने डेकोरेशन किया हो. हर चीज़ बोहोत ही आला क्वालिटी की थी. 
और जैसे ही बाल्कनी से पलट के वापस ड्रॉयिंग रूम मे आया तो देखा के दीपा और रूपा दोनो नंगे खड़े मुझे वेलकम कर रहे है. मैं दोनो को देख के मुस्कुरा दिया और मेरा लंड फॉरन ही हरकत मे आ गया और फिर हम ने उस रात बोहोत ही जम्म के चुदाई की दोनो को अलग अलग चोदा और फिर थ्रीसम भी हुआ. चुदाई का सिलसिला सारी रात चलता रहा. रात के तकरीबन 11 बजे रूपा पिज़्ज़ा निकाल के लाई जो के ओवेन मे रखा हुआ था , शाएद पहले ही ऑर्डर कर के मंगवा लिया गया था. डाइनिंग टेबल कंप्लीट ग्लास टॉप की थी. हम तीनो ने पिज़्ज़ा खाना शुरू किया और साथ मे मस्ती भी चल रही थी. पिज़्ज़ा खाने के बाद फिर चुदाई शुरू हुई. दोनो ने मेरे लंड को चूस चूस के लंड का रस्स पीया. दोनो की गंद भी मारी. सुभह के 4 बजे के आस पास हम तीनो नंगे एक ही बेड पे एक दूसरे से लिपट के गहरी नींद सो गये. 
दूसरे दिन दोपहर के 3 बजे हमारी आँख खुली. एक ही बेड पे तीनो नंगे पड़े थे. हम तीनो ने साथ शवर लिया और एक दूसरे को अछी तरह से साबुन से रगड़ रगड़ के धोया. इतने दिनो मे दीपा और रूपा एक दम से चुड़क्कड़ बन चुकी थी. ऐसा लगता था के उनकी जवानी पलट के वापस आ गई है. बिल्कुल किसी 18 – 19 साल की जवान लड़कियो की तरह से चुदवाती. झाड़ जाती और फिर एक ही मिनिट 
के अंदर फिर से चुदवाने को रेडी हो जाती. शवर मैं भी दोनो को एक एक राउंड घोड़ी बना के चोदा. शवर से बाहर आ के एक दूसरे के बदन को पोछा. किचन और फ्रिड्ज भी फुल खाने पीने के आइटम्स से भरा पड़ा था. तीनो ने साथ ब्रेकफास्ट लिया और फिर कॉफी पीते पीते इधर उधर की बातें करने लगे. युरोप के टूर के बारे मे पूछा तो मैं ने उन दोनो को सब कुछ बता दिया के किस तारह से चुदाई हुई और किस तरह से एक दूसरे की चूतो को चटा और फिर क्रिसटीना के बारे मे भी बताया तो वो दोनो हस्ने लगी और बोले के राज मेरी जान तुम्हारे लौदे मे पता नही क्या जादू है इसे कोई चूत एक बार देख लेती है तो बॅस इसी की गुलाम हो के रह जाती है. उन्न दोनो ने फिर मुझे थॅंक्स फॉर एवेरी थिंग बोला. मैं बोला के अरे यार तुम लोग बार बार थॅंक्स बोल के मुझे शर्मिंदा कर रहे हो. मैं बोला ना के यह मेरी ड्यूटी है. कॉफी का एक और दौर चला फिर. 
मैं ने गौर ही नही किया मेरी नज़र पड़ी तो वाहा सेंटर टेबल पे दो ब्राउन कलर्स के बड़े एन्वेलप रखे हुए थे. दीपा और रूपा ने एक एक एन्वेलप उठा लिया और सोफे से उठ के मुझे देते हुए बोली के राज प्लीज़ इसे ना ठुकराना यह हमारी तरफ से तुमको एक छोटा सा गिफ्ट है. मैं तो हैरान रह गया के एन्वेलप का गिफ्ट. मुझे क्या पता था, मैं ने उन दोनो के हाथो से वो एन्वेलप ले लिया और पहले दीपा का दिया हुआ एन्वेलप खोल के देखा तो मेरे होश ओ हवास उड़ गये, चेहरे का रंग ही बदल गया, मेरे हाथ काँपने लगे, एक एन्वेलप मे यह बंगलो की रिजिस्ट्री के पेपर्स थे जो मेरे नाम किए गये थे और दूसरे एन्वेलप मे जो रूपा ने दिया था उस्मै लेक्सस जीप की रिजिस्ट्री बुक थी जिसके ओनर की जगह मेरा नाम लिखा हुआ था. मैं बोला के प्लीज़ दीपा और रूपा मैं आप दोनो से बोहोत ही प्यार करता हू और जब तक मैं हू आप से प्यार करता रहुगा और आपकी सेवा अपने दिल ओ जान से करूँगा पर मैं यह इतना बड़ा गिफ्ट नही ले सकता. दीपा बोली के राज तुम तो हमारी जान हो अगर तुम यह नही आक्सेप्ट करोगे तो हमे बोहोत ही बुरा लगेगा. मैं बोला के मेरी प्यारी प्यारी दीपा और रूपा डार्लिंग अगर आप लोगो को यह शक है के कभी मैं आनी और सोनी के तालुक से आपको 
ब्लॅकमेल करूँगा तो आप यह बात अपने दिल से निकाल दीजिए. मैं इतना कमीना इंसान नही हू. मैं आप से कसम खा के कहता हू के मैं ऐसा कभी नही करूगा. इतना सुनना था के उन दोनो ने एक साथ बोला के नही राज हमे मालूम है के तुम बोहोत ही अच्छे नेचर के इंसान हो ऐसा कभी नही करोगे पर प्लीज़ इसे आक्सेप्ट कर्लो. इतना कहते कहते उनकी आँखो मे आँसू आ गये. उनकी आँखो मे आँसू देख के मेरा दिल भी भर आया और मेरी आँखें भी गीली हो गई. मैने आगे बढ़ के दोनो को अपने गले से लगा लिया और वो दोनो मेरे शोल्डर पे सर रख के बोहोत धीमी हिचकीओं के साथ रोने लगे तो मैं ने उनके चेहरो को अपने सामने किया और दोनो की आँखो के आँसू को अपने होटो से पी गया. 

और फिर हम तीनो ने एक दूसरे को बोहोत टाइट पकड़ लिया जैसे के यह एक अग्रीमेंट है के हम कभी एक दूसरे से अलग नही होंगे. 
अब मजबूरन मुझे वो बंगलो और जीप के पेपर्स लेने ही पड़े. उन दोनो ने कहा के राज प्लीज़ हमारी बच्चियो को कभी उदास ना हो ने देना. उनकी शादी हो जाने के बाद भी उनकी चुदाई की ज़रूरतो को पूरा करते रहना तो मैं बोला के उसकी आप फिकर ना करो मैं आनी और सोनी से भी बोहोत ही प्यार करता हू. उन दोनो की चूतो की सील तोड़ी है ना तो उन से मुझे एक अलग सा प्यार हो गया है और मैं उन दोनो का दीवाना हू. कभी तो मैं समझता हू के मैं ही उनका हज़्बेंड हू और फिर खुद ही हस्ने लगा. वो मुस्कुरा के बोली के नही राज हम ने दोनो के फोन पे बात सुनी है वो दोनो तुम्हारी दीवानी है और एस्पेशली तुम्हारे यह मस्त मूसल की दीवानी है. यह कहते कहते दीपा ने मेरा लंड पकड़ लिया. इतने एमोशन्स की बातो के साथ जैसे ही दीपा का हाथ मेरे लंड पे लगा उसने एक झटका खाया और किसी एलेक्ट्रिक पोल की तरह से खड़ा हो गया. दीपा ने रूपा से बोला के देखो रूपा इस के लंड को, बोलो क्या इरादा है तुम्हारा तो रूपा हंस के बोली के इस के लंड का इलाज तो करना ही पड़ेगा नही तो यह ऐसे ही खड़ा रहेगा और फिर हम तीनो हस्ने लगे. दीपा और रूपा मेरे दोनो तरफ आ गये और हम तीनो एक दूसरे की कमर मे हाथ डाल के एक दूसरे वाले 
बेडरूम मे गये.
Reply
11-20-2017, 10:59 AM,
#53
RE: Desi Kahani ग्रेट गोल्डन जिम
बेडरूम मे जाने के दूसरे मिनिट हम तीनो नंगे थे. मुझे नीचे बेड पे पीठ के बल लिटा दिया और दीपा मेरी टाँगो के बीच मे बीत के मेरे लंड को पहले तो पकड़ के ज़ोर से दबाया तो लंड के हेड के सुराख से प्री कम का एक बड़ा सा डाइमंड निकल आया जिसे दीपा ने अपनी ज़ुबान की नोक से चाट लिया और फिर लंड के सूपदे पे अपनी ज़ुबान घुमा घुमा के लंड को चूसना शुरू कर दिया. इधर रूपा मेरे मूह पे बैठ गई और अपनी चूत को मेरे मूह पे रख के रगड़ने लगी. रूपा अपनी चूत को मेरे मूह पे रख के उल्टा लेट गई और दीपा भी मेरे पैरो के बीच मे उल्टा लेट गई और मेरे लंड को ज़ोर ज़ोर से चूसने लगी. 
मुझे डबल प्लेषर मिल रहा था. रूपा की चूत से रस्स निकल रहा था और वो अपनी चूत मेरे मूह पे पटक पटक के झड़ने लगी. मैं ने इशारा किया और दीपा मेरे ऊपेर 69 की पोज़िशन मे आ गई और रूपा ऐसे घोड़ी बन के मेरे ऊपेर बैठी थी मैं उसकी छूट मे उंगली कर रहा था और रूपा, दीपा की गंद मे उंगली कर रही थी. दीपा की चूत बे इंतेहा गीली हो चुकी थी और अब उस से रहा नही जा रहा था तो वो पलट के मेरे लंड पे एक ही झटके के साथ बैठ गई और उसके मूह से एक हल्की सी सस्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्स्सस्स सिसकारी निकली और लंड उसकी चूत की गहराईओं को नापने लगा था. इतना देखना था के रूपा अपने दोनो पैर मेरे बदन के दोनो तरफ डाल के खड़ी हो गई. ऐसी पोज़िशन मे उसकी चूत दीपा के मूह के सामने थी. दीपा ने रूपा की चूत को अपने मूह के सामने पाया तो उसने रूपा के चूतदो को पकड़ के उसको अपनी तरफ खेच लिया और उसकी चूत चाटने लगी. मैं दीपा के बूब्स को मसल रहा था और वो मेरे लंड पे उछल उछल के चुद रही थी. थोड़ी ही देर मे दीपा का बदन अकड़ गया और वो झाड़ गई. फिर भी थोड़ी देर ऐसे ही लंड पे उछलती रही. फिर उसने रूपा से बोला के चलो अब तुम यहा आ जाओ लेट्स चेंज पोज़िशन्स. मेरा लंड तो दीपा की चूत के रस्स से अच्छा ख़ासा भीग चुका था. रूपा ने जोश मे हिलते मेरे लंड को एक हाथ से पकड़ा और चूत के सुराख का निशाना लिया और धाम से बैठ गई और फॉरन हो उछल भी पड़ी उसके मूह से भी ऊऊऊऊओफफफफफफफफफफफफफफफ्फ़ निकला. फिर वो धीरे धीरे मेरे 
लंड पे बैठ गई और वो भी उछल उछल के चुदवाने लगी और फिर दीपा ने रूपा की ओरिजिनल पोज़िशन ले ली थी और वो मेरे मूह पे बैठ गई. दीपा की पीठ रूपा की तरफ़ थी. अब दीपा मेरे मूह पे अपनी चूत को रगड़ रही थी. मैं ने रूपा को झुका लिया और उसके मस्त कड़क बूब्स को मसल्ने लगा और अपनी गंद उठा उठा के उसकी चूत मे अंदर तक पेलने लगा. दीपा और रूपा के मूह से मस्ती की सिसकारियाँ निकल रही थी रूपा बोल रही थी फक मी राज फक मी. चोद डालो अपनी रूपा को. रूपा तुम्हरे लंड की दीवानी हो गई है. चोद चोद के इसका भोसड़ा बना दो आज. मैं और मस्ती मे आगेया और दबा के चोदने लगा. 
दीपा मेरे मूह मे झाड़ झाड़ के निढाल हो चुकी थी इसी लिए मेरे मूह के ऊपेर से लुढ़क के साइड मे लेट गई और हमारी चुदाई को देखने लगी. मैं ने पोज़िशन चेंज की और रूपा को नीचे लिटा दिया और उसकी टाँगो के बीच मे आ गया. 


अपने पैर पीछे किए मिशनरी पोज़िशन मे. ऐसे पोज़िशन चेंज करने मे जब मेरा लंड रूपा की चूत से बाहर निकला तो रूपा ने फॉरन ही मेरे लंड को पकड़ लिया और अपनी चूत मे घिसते हुए अपनी चूत के सुराख मे अटका दिया. इतनी देर मे, मैं भी पोज़िशन ले चुका था और एक ही पवरफुल शॉट मे अपने लंड को रूपा की चूत मे अंदर तक घुसेड दिया और उनको फुल मस्ती मे पागलो की तरह से उसको चोदने लगा. रूपा की आँखें मस्ती मे बंद हो गई थी और वो फुल मस्ती मे चुदवा रही थी. सिसकारिया भर रही थी और बोल रही थी आहह राज्ज्जज ब्ब्बूहूटतत हहिि म्माआज़्ज़्ज़ाअ एयेए राहहा हहीएईईइ ऊऊीइ म्‍म्माआ आईिससीए हहिि म्‍म्माआज़्ज़्ज़ाअ हहामम्माअरररीए बबबीएतत्टििीूओंन्न कककूऊ बब्बहिि द्डदीएंन्न्नाअ हहाम्म ततुउउम्महार्ररीि ग्घहुउल्ल्लांमिईीईई कककाअररीएंन्ग्गी आआआआहह आऐईीइसस्सीए हहिि कक्चहूओद्दद्दूव अओउउर्र ज़ूओररर सस्सीई ऊओिइ आआहह राज्ज्जज्ज इधर मैं फुल स्पीड से चोद रहा था. स्पीड इतनी तेज़ थी के पता ही नही चल रहा था के लंड कब चूत के अंदर जा रहा है और कब बाहर आ रहा है. रूपा ने बोला 
के राज्ज्ज प्लीज़ अपने लंड की मलाई मेरे मूह मे डालो मुझे खाना है तुम्हरी मलाई. रूपा तो 4 - 5 टाइम ऑलरेडी झाड़ चुकी थी. अब मैं भी अपनी मंज़िल पे पोहोच्ने ही वाला था. दीवानो की तरह से चोद रहा था. मुझे लगा के अब मेरा निकलने वाला है तो इस से पहले के मैं अपना लंड रूपा की चूत से बाहर निकालता,लंड से मलाई की एक पिचकारी रूपा की चूत मे ही निकल के गिरी और इतनी पवरफुल तरीके से उसकी चूत मे पिचकारी मारी के उसकी चूत एक बार फिर से झड़ने लगी. जैसे ही मेरा लंड रूपा की चूत से बाहर निकला, मेरे लंड से एक मोटी पिचकारी उड़ी और किसी राइफल की बुलेट की तरह से उड़ के उसके सारे बदन पे, मूह पे और दूर तक दीपा के मूह तक जा गिरी. और 5 – 6 मोटी मोटी धारियाँ निकली जो दोनो के बदन पे पड़ी. दोनो के बदन पे सुफेद सुफेद क्रीम एक डिज़ाइन बना चुकी थी. दीपा और रूपा एक दूसरे के बदन से लिपट गये और एक दूसरे के बदन पे पड़ी मलाई को चाटने लगे. पाँच मिनिट के अंदर दोनो ने एक दूसरे को इतना चॅटा इतना चॅटा के दोनो फिर से मूड मे आ गये और देखते ही देखते दोनो 69 की पोज़िशन मे एक दूसरे की चूतो को चाटने लगे और फिर थोड़ी देर ऐसे ही चाटने के बाद कुछ इतनी ज़ोर से झाडे के बे दम हो के एक दूसरे के बदन पे गहरी गहरी साँसें लेते हुए गिर पड़े. 
एक बार फिर हम तीनो शवर लेने चले गये और एक दूसरे को रगड़ रगड़ के साबुन लगाया और खूब नहाए. शवर ले के वापस आने के बाद रूपा कॉफी बनाने लगे और मैं और दीपा बातें करने लगे. 

क्रमशः........
Reply
11-20-2017, 10:59 AM,
#54
RE: Desi Kahani ग्रेट गोल्डन जिम
ग्रेट गोल्डन जिम--23 

गतान्क से आगे.... 
थोड़ी ही देर मे रूपा कॉफी ले के आ गयी और हम तीनो गरम गरम मज़ेदार कॉफी की चुस्कियाँ लेने लगे. रूपा ने प्रिया के बारे मे पूछा तो मैं बोला के हा वो आनी और सोनी की बाइयालजी लेक्चरर है और उसको भी मसाज का शोक हो गया तो मैं ने उसका भी मसाज कर्दिआ. दीपा बोली के मसाज क्या खाक किया होगा उस बेचारी की चूत और गंद को फाड़ के रख दिया होगा. मैं धीरे से मुस्कुराया तो वो दोनो भी हस्ने लगे. फिर मैं उनको डीटेल मे बताया के कैसे उसके हज़्बेंड के मलेशिया जाने के दिन उसको चोदा और इतनी ज़ोर से चोदा के दूसरे ही दिन उसकी डेट से 2 दिन पहले ही उसको मेनास चालू हो गये और फिर उसके मेनास क्लियर 
हो ने के बाद जो चुदाई का सिलसिला चला है, उसका नतीजा यह है के अब वो प्रेग्नेंट है. दोनो के मूह से “ओह सच” निकला तो मैं बोला के हा मेरी जान सच है मैं इसी लिए तो उसको आनी और सोनी के साथ घुमाने ले गया था क्यॉंके उसका हज़्बेंड 3 महीने के लिए गया हुआ है और वो अकेली हो जाएगी. कम से कम हमारे साथ रहेगी तो कुछ एंजाय करेगी और प्रेग्नेन्सी के दोरान ऐसे खुश रहेगी तो बच्चा भी हेल्ती पैदा होगा. दीपा बोली के राज हमारा एक और काम करोगे, तो मैं बोला के अरे मेरी जान तुम बोल के तो देखो अपनी जान भी देदुन्गा तुम दोनो के लिए. तो दोनो हस्ने लगे और बोले के तुम्हारी जान ले के हमे बेवा थोड़ा ही होना है. इस बात पर हम तीनो खिल खिला के हस्ने लगे. फिर मैं ने पूछा के चलो अब बताओ के क्या करना है मुझे तो दीपा एक दम से सीरीयस हो के बोली के राज मैने और रूपा ने मिल के सोचा है के तुम से रिक्वेस्ट करेंगे के आनी और सोनी को भी तुम अपना बच्चा दोगे तो मैं हैरान हो गया और बोला के अरे यह क्या बोल रहे हो आप लोग. रूपा बोली के हा राज वी आर सीरीयस. हमारे घर मे हमें तुम्हारे बच्चे चाहिए. तुम आनी और सोनी को कम से कम एक एक बच्चा तो देना ही होगा. यह हमारी रिक्वेस्ट है तो मैं बोला के मुझे तो कोई प्राब्लम नही है अगर कही कुछ ऊँच नीच हो गई तो क्या होगा तो वो दोनो बोले के उसकी तुम फिकर ना करो वो हम संभाल लेंगे. 

तुमको हमारी कसम तुम्है आनी और सोनी की शादी से एक महीना पहले ही उन दोनो को प्रेग्नेंट करना होगा. मैं बोला के ठीक है अगर आप दोनो की यही इच्छा है तो मुझे कोई प्राब्लम नही है. दीपा बोली के राज यू नो, यह बात हम ने आनी और सोनी को एक दूसरे से फोन पर बात करते सुना था के वो तुम्हारे बच्चे को जनम देंगी इसी लिए अब यह हमारी भी इक्षा हो गई है. मैं इस बात के लिए रेडी हो गया और बोला के कोई बात नही जैसे आप लोग चाहेंगे मैं वैसा ही करूँगा. आप दोनो के घर मे मेरा ही बच्चा जनम लेगा. 
फिर शाम मे हम वापस आ गये. दूसरे दिन मैं प्रिया को यह बंग्लॉ दिखाने लाया तो देख के बोहोत ही खुश हो गई. फिर वही 
पे एक राउंड चुदाई का हुआ. और उस रात हम वही बंगलो पे ही रहे दूसरे दिन वापस आए. 
रवि का टूर 3 मंत्स और एक्सटेंड हो गया था वो वही मलेशिया मे ही था इधर मैं उसकी पूरी खबर रख रहा था. रवि परेशान था के प्रिया अकेली है, एक टाइम उसने जब प्रिया से अपनी परेशानी के बारे मे बताया तो प्रिया बोली के तुम फिकर ना करो मैं एक दम से ठीक ठाक हू. मेरी दो स्टूडेंट्स के एक जानने वाले है, अरे तुम्है तो पता ही है ना ग्रेट गोलडेन जिम, तो रवि बोला के हा वो ना जो हमारे घर के पास मे ही है तो प्रिया बोली के हा वोही. उसका जो मालिक है वो अनिता राई और सुनीता राई का फॅमिली फ्रेंड भी है हम जब युरोप के टूर पे गये थे तो वो भी तो था हमारे साथ गया था, बताया था ना तुमको तो वो बोला के हा याद आया यार पर यहा इतना काम है के मैं भूल गया था. प्रिया बोली के हा वोही उसका नाम राज है वो बोहोत ही अछा आदमी है वो डेली घर जाने से पहले मुझे देख के मेरी ख़ैरियत मालूम करके ही घर जाता है और 4 या 5 टाइम मुझे हॉस्पिटल भी ले जा चुका है. 

तुम फिकर ना करो वो डेली मेरी खबर लेता रहता है तो रवि बोले के ओके डार्लिंग मेरी तरफ से भी राज को थॅंक्स बोलना और मैं वापस आने के बाद उस से मिल के पर्सनली थॅंक्स बोलूँगा. प्रिया बोली के ओके रवि कोई बात नही मैं बोल दूँगी. 
अभी प्रिया की डेलिवरी को एक महीना रहता था के रवि मलेशिया से वापस आ गया. मुझे से मिला, मिलके बोहोत खुश हुआ और थॅंक्स बोलते बोलते उसकी ज़ुबान नही थकती थी. दोस्तो टाइम पूरा हो गया और प्रिया को एक बोहोत ही खूबसूरत और तन्द्रुस्त बेटा पैदा हुआ. रवि बेटे को देख के फूला नही समा रहा था उसे क्या पता के जिस बेटे को वो अपने हाथो मे लिए बैठा है वो उसका बेटा नही है. प्रिया बे इंतेहा खुश हो रही थी. जब भी रवि थोड़ा दूर होता तो मुझे थॅंक्स राज बोलती उसकी आँखों मे आँसू कंटिन्यू आते ही जा रहे थे यह आँसू खुशी के आँसू थे. उसको देख 
के मेरी आँख भी भर आई थी. कैसे किसी को बता ता के यह मेरा बेटा है. आनी और सोनी भी हॉस्पिटल मे बोहोत लंबे चौड़े गिफ्ट्स ले का आए. बेटे को देख के बोहोत खुश हुए, खूब प्यार करते रहे. फिर मेरे साथ जिम वापस आए. रास्ते मे बोले के राज तुम्हारा बेटा तो बोहोत ही खूबसूरत है तो मैं मुस्कुरा दिया. आनी बोली के मुझे भी चाहिए एक बेटा राज बोलो दोगे ना तो सोनी भी बोल पड़ी के हा राज मुझे भी चाहिए तुम्हारा बेटा. तो मैने बोला के ठीक है बाबा दे दूँगा जितने बोलोगि उतने दे दूँगा. बोलो गी तो क्रिकेट टीम ही पैदा कर्दु तो वो दोनो हस्ने लगी और मेरे सीने पे मुक्के मारने लगी बोले बोहोत खराब हो तुम राज कही किसी लड़की के इतने बच्चे होते है के क्रिकेट टीम तय्यार हो जाती है तो मैं बोल के ट्राइ करने मे कोई हरज तो नही तो. फिर हम सब हँसने लगे और ज़िंदगी ऐसी ही हँसी ख़ुसी गुज़र रही है देखना है के आनी और सोनी की सगाई कहाँ और कब होती है और कब मुझे उनको प्रेग्नेंट करने का मोका मिलता है.. 

दा एंड 
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
  Hindi Sex Stories अनौखा रिश्ता sexstories 45 334 12-14-2017, 12:02 AM
Last Post: sexstories
  Sex Porn Story पंजाबी मालकिन और नौकर sexstories 19 206 12-13-2017, 11:51 PM
Last Post: sexstories
  Chudai Kahani सपनों के रंग मस्ती संग sexstories 12 105 12-13-2017, 11:42 PM
Last Post: sexstories
  Desi Kahani अनोखा रिश्ता... अनोखी चाहत sexstories 23 204 12-13-2017, 11:39 PM
Last Post: sexstories
Smile Kamukta Stories ससुराल सिमर का sexstories 24 897 11-28-2017, 12:25 PM
Last Post: sexstories
  Hindi Sex Stories खुराक भी जरूरी है sexstories 4 280 11-28-2017, 12:19 PM
Last Post: sexstories
  College Sex Stories गर्ल्स स्कूल sexstories 101 2,130 11-26-2017, 01:06 PM
Last Post: sexstories
  Desi Sex Kahani गुलबदन और गुलनार की मस्ती sexstories 26 723 11-24-2017, 01:19 PM
Last Post: sexstories
Tongue Maa ki chudai मॉं की मस्ती sexstories 70 1,939 11-24-2017, 01:13 PM
Last Post: sexstories
  Sex Kahani चाचा बड़े जालिम हो तुम sexstories 20 844 11-20-2017, 10:48 AM
Last Post: sexstories

Forum Jump:


Users browsing this thread: 1 Guest(s)